अग्निपथ योजना पर राहुल गांधी ने सरकार को चेताया, बोले : जब युद्ध होगा तो आएगा इसका नतीजा

नई दिल्ली, 22 जून (आईएएनएस)। सरकार की अग्निपथ योजना पर देश में विपक्ष और सड़कों पर युवा प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली में अपने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए सरकार पर हमला बोला और चेताते हुए कहा कि, जब युद्ध होगा, तब इसका नतीजा आएगा।
 | 
अग्निपथ योजना पर राहुल गांधी ने सरकार को चेताया, बोले : जब युद्ध होगा तो आएगा इसका नतीजा नई दिल्ली, 22 जून (आईएएनएस)। सरकार की अग्निपथ योजना पर देश में विपक्ष और सड़कों पर युवा प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली में अपने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए सरकार पर हमला बोला और चेताते हुए कहा कि, जब युद्ध होगा, तब इसका नतीजा आएगा।

राहुल गांधी ने कहा, चीन की सेना हिंदुस्तान की धरती पर बैठी है, चीन की सेना ने हमारी जमीन हमसे छीनी है। यह सच्चाई है जो सरकार ने भी माना है। सेना को मजबूत करना चाहिए लेकिन सरकार सेना को कमजोर कर रही है। जब युद्ध होगा, तब इसका नतीजा आएगा। सब याद रखो, जो मैं बोल रहा हूं। हमारी सेना को यह लोग कमजोर कर रहे हैं। देश का नुकसान होगा और यह खुद को देशभक्त कहते हैं।

krishna hospital

उन्होंने आगे कहा, ईडी का छोटा मामला है, छोड़िये, सबसे जरूरी यह बात कि, यह हमारे युवा देशभक्ति के चिन्ह हैं। सुबह 4 बजे दौड़ते हैं। इनके भविष्य की रक्षा करना हमारा काम है।

कांग्रेस ने कहा था किसानों के बिल वापस लेने पड़ेंगे, बाद में इन्होंने लिया ना? अब कांग्रेस कह रही है अग्निपथ योजना को वापस लेना पड़ेगा, देश का हर युवा हमारे साथ खड़ा मिलेगा। क्योंकि देश का युवा जनता है सच्ची देशभक्ति सेना को मजबूत करने की होती, कमजोर करके नहीं होती है। सेना के साथ जो मोदी जी ने देश के साथ धोखा दिया है, इसको हम रद्द कराएंगे।

इसके अलावा उन्होंने युवाओं के रोजगार की बात पर भी सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने देश की रीढ़ की हड्डी जिसमें छोटी- बड़ी इंडस्ट्री आती हैं, उन्हें तोड़ दिया है। हमारे युवा, हर रोज सुबह दौड़ते हैं, उनसे मैं कहता हूं हिदुस्तान के पीएम ने देश की रीड़ की हड्डी को तोड़ दिया है। अब यह देश युवाओं को रोजगार नहीं दे पाएगा।

chaitanya

दो तीन बड़े उद्योगपति को देश पकड़ा दिया है, यह देश को रोजगार नहीं दिलवा सकते हैं। युवाओं के लिए जो आखिरी रास्ता था, देशभक्ति का, आर्मी और फोर्सस का अब इस रास्ते को इन लोगों ने बंद कर दिया है। वन रेंक वन पेंशन की बात करते थे, अब नो रेंक, नो पेंशन। अब सुबह दौड़ो, आर्मी में भर्ती हो और घर जाओ। जब आप घर जाओगे आर्मी के बाद, आपको कोई रोजगार नहीं मिलने वाला है।

दरअसल केंद्र सरकार द्वारा मंगलवार को अग्निपथ योजना की घोषणा के बाद से कई राज्यों में उग्र प्रदर्शन जारी हैं। प्रदर्शन को कई दिन बीत चुके हैं। बीते कुछ दिनों में प्रदर्शनकारियों ने कई इलाकों में ट्रेन के डिब्बों को आग के हवाले कर दिया और सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया। इस दौरान तेलंगाना में एक व्यक्ति की मौत भी हुई।

--आईएएनएस

एमएसके/एएनएम