वैश्विक तेल में नरमी आने पर जल्द मिल सकती है ईंधन कीमतों में कटौती से राहत

नई दिल्ली, 21 जुलाई (आईएएनएस)। ईंधन की कीमतों में कुछ महीनों से अधिक समय से बढ़ोतरी झेल रहे उपभोक्ताओं को अगले कुछ दिनों में कुछ राहत मिलने की उम्मीद है क्योंकि तेल विपणन कंपनियों (ओएमसी) ने देश में ईंधन की कीमतों पर परिणामी प्रभाव वैश्विक तेल कीमतों में गिरावट का मूल्यांकन शुरू कर दिया है।
 | 
वैश्विक तेल में नरमी आने पर जल्द मिल सकती है ईंधन कीमतों में कटौती से राहत नई दिल्ली, 21 जुलाई (आईएएनएस)। ईंधन की कीमतों में कुछ महीनों से अधिक समय से बढ़ोतरी झेल रहे उपभोक्ताओं को अगले कुछ दिनों में कुछ राहत मिलने की उम्मीद है क्योंकि तेल विपणन कंपनियों (ओएमसी) ने देश में ईंधन की कीमतों पर परिणामी प्रभाव वैश्विक तेल कीमतों में गिरावट का मूल्यांकन शुरू कर दिया है।

बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड जो पिछले महीने के अंत में बढ़कर 77 डॉलर प्रति बैरल हो गया था, वह पिछले एक पखवाड़े में 10 फीसदी से अधिक की गिरावट के साथ 68.85 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर पहुंच गया है। अगर कीमत लाइन कुछ और दिनों के लिए 70 डॉलर प्रति बैरल से नीचे रहती है, तो आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती देखने को मिल सकती है।

Bansal Saree

तेल बाजार में कीमतों में नरमी का असर पहले से ही देश में ईंधन की कीमतों में उतार-चढ़ाव पर देखा जा रहा है। बुधवार को ओएमसी ने पेट्रोल और डीजल के खुदरा मूल्य में कोई बदलाव नहीं किया। यह लगातार चौथा दिन है, जो हफ्तों में सबसे लंबी अवधि है, जब ईंधन की कीमतें स्थिर बनी हुई हैं।

बुधवार के ठहराव के साथ, पेट्रोल 101.84 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है, जबकि डीजल भी 89.87 रुपये प्रति लीटर के अपरिवर्तित मूल्य पर बेचा जा रहा है।

Devi Maa Dental

रविवार से पेट्रोल पंप की कीमत स्थिर है। शनिवार को पेट्रोल में 30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई, जबकि डीजल की कीमत अपरिवर्तित रही।

मुंबई शहर में जहां पेट्रोल की कीमत 29 मई को पहली बार 100 रुपये के स्तर को पार कर गई, वहीं ईंधन की कीमत 107.83 रुपये प्रति लीटर है। शहर में डीजल की कीमत भी 97.45 रुपये है, जो महानगरों में सबसे ज्यादा है।

सभी महानगरों में पेट्रोल की कीमत अब 100 रुपये प्रति लीटर के आंकड़े को पार कर गई है। लेकिन वे पिछले चार दिनों से स्थिर हैं।

दैनिक मूल्य संशोधन के तहत, ओएमसी हर सुबह पेट्रोल और डीजल की कीमतों में संशोधन करती है, खुदरा ईंधन की कीमतों को वैश्विक परिष्कृत उत्पादों की कीमतों और डॉलर विनिमय दर के 15-दिवसीय रोलिंग औसत के लिए बेंचमार्क करती है। इस 15 दिन की वापसी के बाद पेट्रोल-डीजल के दाम गिर सकते हैं।

--आईएएनएस

एसएस/आरजेएस