मास्टरकार्ड पर प्रतिबंधों से आरबीएल, यस बैंक, बजाज फिनसर्व सबसे ज्यादा प्रभावित

नई दिल्ली, 15 जुलाई (आईएएनएस)। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा मास्टरकार्ड को ऑन-बोर्डिग नए ग्राहकों से प्रतिबंधित किए जाने के बाद, सह-ब्रांड भागीदारों सहित क्रेडिट कार्ड जारी करने वालों में आरबीएल बैंक, यस बैंक और बजाज फिनसर्व सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं, क्योंकि उनकी पूरी कार्ड योजनाएं मास्टरकार्ड से संबद्ध हैं।
 | 
मास्टरकार्ड पर प्रतिबंधों से आरबीएल, यस बैंक, बजाज फिनसर्व सबसे ज्यादा प्रभावित नई दिल्ली, 15 जुलाई (आईएएनएस)। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा मास्टरकार्ड को ऑन-बोर्डिग नए ग्राहकों से प्रतिबंधित किए जाने के बाद, सह-ब्रांड भागीदारों सहित क्रेडिट कार्ड जारी करने वालों में आरबीएल बैंक, यस बैंक और बजाज फिनसर्व सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं, क्योंकि उनकी पूरी कार्ड योजनाएं मास्टरकार्ड से संबद्ध हैं।

जापानी ब्रोकरेज नोमुरा ने एक नोट में कहा है कि आरबीआई के इस कदम से इन तीन संस्थाओं पर सबसे ज्यादा असर पड़ा है।

Bansal Saree

एचडीएफसी बैंक की 60 प्रतिशत कार्ड योजनाएं मास्टरकार्ड, एमेक्स और डाइनर्स से जुड़ी हैं, जबकि एक्सिस बैंक और आईसीआईसीआई बैंक के लिए यह लगभग 35-36 प्रतिशत है।

उन्होंने कहा, हम संभावित प्रभाव का आकलन करने के लिए जारीकर्ताओं की समग्र लाभप्रदता में व्यक्तिगत कार्ड योजनाओं के योगदान को नहीं जानते।

Devi Maa Dental

एचडीएफसी बैंक पहले से ही नए कार्ड जारी करने से प्रतिबंधित है, और इसलिए वृद्धिशील रूप से प्रभावित नहीं है। दूसरी ओर, कोटक का कार्ड पोर्टफोलियो पूरी तरह से वीजा से संबद्ध है और इसलिए इसे किसी भी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

एक्सिस बैंक और आईसीआईसीआई बैंक दोनों के प्रबंधन ने हाल के दिनों में फ्लिपकार्ट और अमेजॅन के साथ अपने को-ब्रांडेड कार्ड के बारे में बात की है, जो सबसे तेजी से बढ़ने वाली कार्ड योजनाएं हैं। ये कार्ड योजनाएं एक्सिस और आईसीआईसीआई के बकाया काडरें का क्रमश: 14 और 15 प्रतिशत हैं।

नोमुरा ने कहा कि जबकि अमेजॅन आईसीआईसीआई कार्ड वीजा से संबद्ध है, फ्लिपकार्ट एक्सिस कार्ड मास्टरकार्ड से संबद्ध है और एक संभावित मध्यम अवधि का जोखिम है, इसलिए मौजूदा स्थिति को जारी रखना चाहिए।

आरबीआई ने बुधवार को मास्टरकार्ड एशिया/पैसिफिक पीटीई लिमिटेड को 22 जुलाई, 2021 से अपने सभी कार्ड उत्पादों (डेबिट, क्रेडिट और प्रीपेड) में नए ग्राहकों को शामिल करने से प्रतिबंधित कर दिया।

आरबीआई ने पहले अमेरिकन एक्सप्रेस बैंक (एमेक्स) और डाइनर्स क्लब इंटरनेशनल (डिस्कवर फाइनेंशियल सर्विसेज) दोनों पर समान प्रतिबंध लगाए थे।

नोमुरा ने कहा, यह केवल वीजा इंक और घरेलू एनपीसीआई के रुपे को भुगतान प्रदाताओं के रूप में छोड़ देता है, इस समय कोई प्रतिबंध नहीं है। हमें नहीं पता कि वीजा ने डेटा स्थानीयकरण की सभी आवश्यकताओं को पूरा किया है जैसा कि आरबीआई के भुगतान प्रणाली डेटा परिपत्र के भंडारण में परिकल्पित है।

उन्होंने कहा, निकट अवधि में, हम कार्ड जारीकर्ताओं (विशेष रूप से क्रेडिट कार्ड जारीकर्ताओं) पर कोई भौतिक प्रभाव नहीं देखते हैं, लेकिन अगर यह स्थिति बनी रहती है तो मध्यम अवधि के प्रभाव हो सकते हैं।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम