फेसबुक कस्टम सर्वर चिप्स पर कर रहा है काम

सैन फ्रांसिस्को, 10 सितम्बर (आईएएनएस)। फेसबुक एक ऐसी चिप विकसित कर रहा है जो यूजर्स को रिकॉमेंडिंग कंटेंट करने जैसे कार्यों के लिए मशीन लनिर्ंग (एमएल) को शक्ति प्रदान करेगा।
 | 
फेसबुक कस्टम सर्वर चिप्स पर कर रहा है काम सैन फ्रांसिस्को, 10 सितम्बर (आईएएनएस)। फेसबुक एक ऐसी चिप विकसित कर रहा है जो यूजर्स को रिकॉमेंडिंग कंटेंट करने जैसे कार्यों के लिए मशीन लनिर्ंग (एमएल) को शक्ति प्रदान करेगा।

सूचना के अनुसार, फेसबुक अपने डेटा केंद्रों के लिए कस्टम चिप्स का एक सूट विकसित कर रहा है।

एक प्रोसेसर को कथित तौर पर एमएल कार्यों को शक्ति देने के लिए डिजाइन किया गया है, जिसमें एल्गोरिदम भी शामिल है जो फेसबुक की रिकॉमेंडीं कंटेंट को संभालता है। दूसरा लाइवस्ट्रीम वीडियो की गुणवत्ता में सुधार के लिए वीडियो ट्रांसकोडिंग में सहायता करेगा।

Bansal Saree

रिपोर्ट के मुताबिक, बाहरी चिपमेकर्स पर अपनी निर्भरता को कम करने में मदद करने के अलावा, कस्टम सिलिकॉन के कदम से फेसबुक को अपने डेटा केंद्रों के कार्बन फुटप्रिंट के कम करने में मदद मिल सकता है।

नए चिप्स तीसरे पक्ष के प्रोसेसर के साथ काम करेंगे, जो कंपनी वर्तमान में अपने सर्वर में उपयोग करता है और कथित तौर पर जो पहले से है उसे पूरी तरह से बदलने के लिए नहीं है।

कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा, फेसबुक हमेशा हमारे सिलिकॉन भागीदारों के साथ और हमारे अपने आंतरिक प्रयासों के माध्यम से गणना प्रदर्शन और पावर दक्षता के उच्च स्तर को चलाने के तरीकों की खोज कर रहा है।

प्रवक्ता ने कहा, हमारे पास इस समय अपनी भविष्य की योजनाओं पर साझा करने के लिए कुछ भी नया नहीं है।

Devi Maa Dental

रिपोर्ट में यह भी उल्लेख किया गया है कि कंपनी पहले ही सेमी-कस्टम चिप्स में डब कर चुकी है।

2019 में, उसने घोषणा की कि वह वीडियो ट्रांसकोडिंग और अनुमान कार्य के लिए एक एप्लिकेशन-विशिष्ट एकीकृत स*++++++++++++++++++++++++++++र्*ट (एएसआईसी) पर काम कर रहा है।

--आईएएनएस

एनपी/आरजेएस