निवेश के लिए तमिलनाडु को पहला गंतव्य बनाना चाहता हूं: स्टालिन

चेन्नई,20 जुलाई (आईएएनएस)। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के.स्टालिन ने कहा राज्य सरकार राज्य को औद्योगिक निवेश के लिए पहला पता बनाने की दिशा में काम कर रही है।
 | 
निवेश के लिए तमिलनाडु को पहला गंतव्य बनाना चाहता हूं: स्टालिन चेन्नई,20 जुलाई (आईएएनएस)। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के.स्टालिन ने कहा राज्य सरकार राज्य को औद्योगिक निवेश के लिए पहला पता बनाने की दिशा में काम कर रही है।

उन्होंने यह भी कहा कि सरकार 2030 तक राज्य के सकल घरेलू उत्पाद को 1 लाख करोड़ डॉलर तक ले जाने के लक्ष्य की दिशा में काम कर रही है।

Bansal Saree

मंगलवार को एक निवेश सम्मेलन में बोलते हुए स्टालिन ने कहा, तमिलनाडु संस्कृति का पता है। अब हम तमिलनाडु को औद्योगिक निवेश के लिए पहला पता बनाने के लिए काम कर रहे हैं।

उन्होंने उद्योगपतियों से राज्य में अन्य निवेशकों को निवेश करने का आह्वान करने का भी आग्रह किया।

Devi Maa Dental

स्टालिन ने कहा कि निवेश को आसान बनाने के लिए सिंगल विंडो क्लीयरेंस 2.0 का उद्घाटन किया गया है और कहा कि आवेदनों को ऑनलाइन संसाधित किया जाएगा।

उनके अनुसार कृष्णागिरी जिले में एक साल में एक करोड़ लीटर प्रति दिन (एमएलडी) तृतीयक उपचार रिवर्स ऑस्मोसिस प्लांट (टीटीआरओ) स्थापित किया जाएगा और इससे उद्योगों को पानी की पर्याप्त आपूर्ति होगी।

स्टालिन ने यह भी कहा कि इनोवेशन सेंटर और अन्य सहित औद्योगिक बुनियादी ढांचे की स्थापना के लिए 500 करोड़ रुपये का औद्योगिक इको-सिस्टम फंड स्थापित करने के आदेश पारित किए गए हैं।

स्टालिन ने कहा कि इसके लिए 95.84 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की गई है।

उन्होंने कहा कि जनरल इलेक्ट्रिक (जीई) ने उत्कृष्टता केंद्र स्थापित करने के लिए टिडको के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसके परिणामस्वरूप एयरोस्पेस क्षेत्र के लिए घटक बनाने के लिए निवेश किया गया है।

स्टालिन ने कहा कि उद्योगों की मदद के लिए राज्य में औद्योगिक डाटा बेस, निर्यात प्रकोष्ठ स्थापित किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा मंगलवार को 35 समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए हैं जिसमें 55,054 व्यक्तियों के लिए रोजगार के अवसर के साथ 17,141 करोड़ रुपये का निवेश शामिल है, नौ परियोजनाओं की आधारशिला रखी गई (निवेश 4,250 करोड़ रुपये, रोजगार क्षमता 21,630 व्यक्ति) और पांच इकाइयों का व्यावसायिक उत्पादन शुरू किया गया है।

उनके अनुसार, नए निवेश राज्य भर में फैले हुए हैं (तिरुनेलवेली, तूतीकोरिन, डिंडीगुल, विरुधुनगर, मदुरै, पुदुकोट्टई, कोयंबटूर, सेलम, तिरुपुर, कृष्णागिरी, रानीपेट, तिरुवल्लूर, चेंगलपट्टू, कुड्डालोर, विल्लुपुरम और तिरुवन्नामलाई) जो युवाओं को उनके घरों के पास रोजगार प्रदान करेंगे।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस