26/11 आतंकी हमले की 13वीं बरसी - राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, गृह मंत्री अमित शाह और राजनाथ सिंह ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली, 26 नवंबर (आईएएनएस)। 2008 में 26/11 को मुंबई में हुए आतंकी हमले की शुक्रवार को 13 वीं बरसी है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद , गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस भयावह आतंकी हमले में शहीद हुए सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि देते हुए बहादुरी और शौर्य के लिए उनको नमन किया।
 | 
26/11 आतंकी हमले की 13वीं बरसी - राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, गृह मंत्री अमित शाह और राजनाथ सिंह ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि नई दिल्ली, 26 नवंबर (आईएएनएस)। 2008 में 26/11 को मुंबई में हुए आतंकी हमले की शुक्रवार को 13 वीं बरसी है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद , गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस भयावह आतंकी हमले में शहीद हुए सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि देते हुए बहादुरी और शौर्य के लिए उनको नमन किया।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा , 26/11 मुंबई आतंकी हमले के शहीदों और पीड़ितों को मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि। कर्तव्य के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले सुरक्षाबलों की बहादुरी और बलिदान के लिए देश हमेशा उनका आभारी रहेगा।

गृह मंत्री अमित शाह ने 26/11 आतंकी हमले में शहीद हुए सुरक्षाकर्मियों के साहस को सलाम करते हुए ट्वीट किया, मुंबई 26/11 आतंकी हमलों में जान गंवाने वालों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि देता हूं और उन सभी सुरक्षाकर्मियों के साहस को सलाम करता हूं, जिन्होंने कायरतापूर्ण हमलों में आतंकवादियों का डटकर सामना किया। पूरे देश को आपकी वीरता पर गर्व रहेगा। कृतज्ञ राष्ट्र सदैव आपके बलिदान का ऋणी रहेगा।

Bansal Saree

मुंबई आतंकी हमले की 13 वीं बरसी पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा, मुंबई पर 26 नवंबर को हुए आतंकी हमले की 13 वीं बरसी पर , हम उन बेकसूर लोगों को याद कर रहे हैं जिन्हें हमने खो दिया। उन हमलों में जान गंवाने वाले सभी लोगों को मेरी श्रद्धांजलि। हमारे सुरक्षा बलों ने 26/11 हमलों के दौरान अनुकरणीय साहस का परिचय दिया। मैं उनकी बहादुरी और बलिदान को सलाम करता हूं।

आज ही के दिन, 26 नवंबर 2008 को 10 पाकिस्तानी आतंकवादियों ने मुंबई को दहला दिया था। समुद्र के रास्ते मुंबई पहुंचे इन आतंकवादियों ने मुंबई में कई जगहों पर अंधाधुंध फायरिंग कर निर्दोष लोगों की जानें ले ली थी। इस आतंकी हमले में 18 सुरक्षाकर्मियों सहित 166 लोग मारे गए थे।

Devi Maa

आज पूरा देश इस भयावह आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों और अधिकारियों को श्रद्धाजंलि दे रहा है और पीड़ितों को याद कर रहा है।

--आईएएनएस

एसटीपी/आरएचए