सक्रांति समारोह तेलुगु राज्यों में भोगी के साथ हुआ शुरू

हैदराबाद/अमरावती, 14 जनवरी (आईएएनएस)। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में शुक्रवार को भोगी के साथ संक्रांति का जश्न शुरू हो गया।
 | 
सक्रांति समारोह तेलुगु राज्यों में भोगी के साथ हुआ शुरू हैदराबाद/अमरावती, 14 जनवरी (आईएएनएस)। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में शुक्रवार को भोगी के साथ संक्रांति का जश्न शुरू हो गया।

समारोह की शुरूआत भोगी या पुराने कपड़े, चटाई और झाड़ू जैसी पुरानी और अवांछित वस्तुओं को जलाने के साथ हुई, इस विश्वास के साथ कि नई चीजें उनके जीवन में प्रवेश करेंगी।

गांवों और कस्बों में लोगों ने दिन की शुरूआत भोगी और प्रार्थना के साथ की। महिलाओं को आग के चारों ओर खेलते और नाचते देखा गया।

Bansal Saree

संक्रांति एक प्रमुख त्योहार है, जो समृद्ध तेलुगु संस्कृति को उजागर करता है।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी और उनकी पत्नी भारती ने अमरावती में ताडेपल्ली में अपने आवास के पास पारंपरिक तरीके से आयोजित संक्रांति समारोह में भाग लिया।

मंत्रियों, सांसदों और राज्य के विधायकों ने भी दोनों राज्यों में विभिन्न स्थानों पर भोगी में भाग लिया। विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं और अधिकारियों ने भी भोगी में भाग लिया।

दोनों राज्यों के विजयवाड़ा, गुंटूर, विशाखापत्तनम और अन्य कस्बों और गांवों के अलावा हैदराबाद और बाहरी इलाकों में आवासीय कॉलोनियों में उत्सव का माहौल बना रहा।

राज्य की राजधानी को तीन भागों में बांटने के राज्य सरकार के कदम का विरोध करने के लिए अमरावती क्षेत्र के विभिन्न गांवों के किसानों ने लगातार तीसरे वर्ष संक्रांति के दौरान विरोध प्रदर्शन किया। जय अमरावती के नारे लगाते हुए उन्होंने मांग की कि अमरावती को एकमात्र राज्य की राजधानी के रूप में बरकरार रखा जाए।

Devi Maa

इस बार प्रदर्शनकारियों ने भोगी में आग लगा दी और 19 गांवों को मिलाकर अमरावती निगम बनाने के सरकारी आदेशों की प्रतियां फूंक दीं। उन्होंने पिछले दो वर्षों में विरोध प्रदर्शन के दौरान अपनी जान गंवाने वाले 180 किसानों को श्रद्धांजलि दी।

हैदराबाद में कार्यरत लाखों लोगों ने दोनों तेलुगु राज्यों के विभिन्न जिलों में अपने घरों को प्रस्थान किया।

तेलंगाना आंध्र प्रदेश दोनों के राज्य सड़क परिवहन निगमों ने विशेष बसों का संचालन किया और रेलवे ने हैदराबाद से लोगों को उनके गंतव्य तक ले जाने के लिए विशेष ट्रेनों का संचालन किया।

आंध्र प्रदेश के राज्यपाल बिस्वा भूषण हरिचंदन और मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी, तेलंगाना के राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन और मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने लोगों को संक्रांति की बधाई दी।

--आईएएनएस

एचके/एएनएम