यूपी : नाकाम आशिक ने प्रेमिका, उसके माता-पिता की धारदार हत्यार से की हत्या

गोंडा (उत्तर प्रदेश), 25 नवंबर (आईएएनएस)। गोंडा जिले में प्यार में नाकाम एक व्यक्ति ने महिला और उसके माता-पिता की कथित तौर पर धारदार हथियार से हत्या कर दी।
 | 
यूपी : नाकाम आशिक ने प्रेमिका, उसके माता-पिता की धारदार हत्यार से की हत्या गोंडा (उत्तर प्रदेश), 25 नवंबर (आईएएनएस)। गोंडा जिले में प्यार में नाकाम एक व्यक्ति ने महिला और उसके माता-पिता की कथित तौर पर धारदार हथियार से हत्या कर दी।

घटना बुधवार देर रात की है।

कथित आरोपी अशोक कुमार परेशान था क्योंकि महिला के परिवार ने उसकी शादी कहीं और तय कर दी थी।

घटना में महिला की छोटी बहन गंभीर रूप से घायल हो गई और उसे बेहतर इलाज के लिए लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया है।

Bansal Saree

पुलिस ने फरार आरोपित की जानकारी देने वाले को 50 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है।

उसकी गिरफ्तारी के लिए पांच टीमों का गठन किया गया है।

पुलिस प्रवक्ता के अनुसार अशोक कुमार बहराइच रोड स्थित इमलिया गुरदयाल में सेवानिवृत्त रेलवे कर्मचारी 67 वर्षीय देवी प्रसाद के घर में घुसा।

उसने गेट अंदर से बंद कर लिया और धारदार हथियार लेकर घुस गया।

अशोक ने पहले देवी प्रसाद और फिर उनकी 50 वर्षीय पत्नी पार्वती की हत्या कर दी।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया, इसके बाद, अशोक ने 26 वर्षीय शिम्पा को मारा, जिसकी शादी हाल ही में तय हुई थी और उसकी छोटी बहन सपना पर भी हमला बोल दिया।

Devi Maa

उसने छत का दरवाजा बंद कर दिया ताकि देवी प्रसाद की बहू लक्ष्मी आकर उसे पहचान न सके।

सूचना पाकर मौके पर पहुंचे गोंडा के पुलिस अधीक्षक संतोष मिश्रा ने कहा कि देवी प्रसाद, उनकी पत्नी पार्वती और उनकी बेटी शिम्पा को जिला अस्पताल में डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया, जबकि सपना को लखनऊ के केजीएमयू ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया है।

एसपी ने कहा, देवी प्रसाद की बहू लक्ष्मी ने अपने बयान में कहा है कि हमलावर अशोक कुमार शिम्पा से शादी करना चाहता था लेकिन उसकी शादी हाल ही में कहीं और तय हुई थी और वह इस बात से नाराज था। वह सुबह से लगातार शिम्पा को फोन कर रहा था और उसे अपने साथ भागने के लिए कह रहा था।

डीआईजी देवीपाटन रेंज उपेंद्र अग्रवाल ने कहा कि आरोपी की जल्द से जल्द गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं।

--आईएएनएस

एसकेके/आरएचए