यूपी के अमानगढ़ रिजर्व का नाम बदलकर न्यू कॉर्बेट पार्क किया जाएगा

लखनऊ, 15 सितम्बर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के बिजनौर में अमनगढ़ टाइगर रिजर्व को अब एक पूर्ण टाइगर रिजर्व के रूप में विकसित किया जाएगा, जो सभी बुनियादी ढांचे से लैस होगा। इकोटूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए इसका नाम बदलकर न्यू कॉर्बेट (अमनगढ़) टाइगर रिजर्व भी किया जाएगा।
 | 
यूपी के अमानगढ़ रिजर्व का नाम बदलकर न्यू कॉर्बेट पार्क किया जाएगा लखनऊ, 15 सितम्बर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के बिजनौर में अमनगढ़ टाइगर रिजर्व को अब एक पूर्ण टाइगर रिजर्व के रूप में विकसित किया जाएगा, जो सभी बुनियादी ढांचे से लैस होगा। इकोटूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए इसका नाम बदलकर न्यू कॉर्बेट (अमनगढ़) टाइगर रिजर्व भी किया जाएगा।

मंगलवार को दुधवा टाइगर कंजर्वेशन फाउंडेशन की पहली बैठक में इस बात का निर्णय लिया गया।

अमनगढ़ टाइगर रिजर्व मूल रूप से प्रसिद्ध जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क का हिस्सा था। उत्तर प्रदेश से उत्तराखंड राज्य बनने के बाद जिम कॉर्बेट पूर्व में चला गया और अमनगढ़ उत्तर प्रदेश में बना रहा।

Bansal Saree

यह बाघों, हाथियों और अन्य जंगली जानवरों की एक विस्तृत विविधता का घर है।

मंत्री दारा सिंह चौहान ने कहा कि रिजर्व को पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन की तर्ज पर विकसित किया जाना चाहिए।

80 किलोमीटर के रिजर्व को अक्टूबर 2012 में अधिसूचित किया गया था। यह कॉर्बेट रिजर्व का बफर बनाता है, और कॉर्बेट से आने वाले बाघ अमनगढ़ में नया घर बनाते हैं।

इन सभी वर्षों में रिजर्व मुख्य रूप से अविकसित रहा है।

मंत्री ने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश में इस साल 15 नवंबर के बजाय एक नवंबर से इकोटूरिज्म सीजन शुरू होगा।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस