मप्र में प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर वैक्सीनेशन में इतिहास रचने की तैयारी

भोपाल, 14 सितम्बर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई जारी है और अधिक से अधिक लोगों का वैक्सीनेशन किए जाने की कोशिश हेा रही है। राज्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर 17 सितंबर को वैक्सीनेशन महा अभियान-तीन का आयेाजन किया गया है और इस दिन एक दिन में वैक्सीनेषन का रिकॉर्ड बनाने की तैयारी है।
 | 
मप्र में प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर वैक्सीनेशन में इतिहास रचने की तैयारी भोपाल, 14 सितम्बर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई जारी है और अधिक से अधिक लोगों का वैक्सीनेशन किए जाने की कोशिश हेा रही है। राज्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर 17 सितंबर को वैक्सीनेशन महा अभियान-तीन का आयेाजन किया गया है और इस दिन एक दिन में वैक्सीनेषन का रिकॉर्ड बनाने की तैयारी है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी के जन्म-दिवस पर प्रदेश में वैक्सीनेशन महाअभियान -3.0 होगा। इस महाअभियान को सफल बनाने में सभी सहयोग लेाग सहयोग करें।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश ने वैक्सीनेशन में रिकार्ड बनाया है। अभी भी प्रदेश में करीब दो करोड़ लोग वैक्सीन के डोजेस लगवाने के लिए बचे हैं। इन लोगों को 17 सितम्बर को वैक्सीनेशन केंद्र तक लाने के लिए प्रेरित कर उन्हें सुरक्षा चक्र प्रदान करना है।

Bansal Saree

राज्य ने बीते 17 माह में कोरोना की दो लहरों का सामना कर लोगों ने तकलीफ उठाई है, कई लोगों ने अपनों को खोया भी है, खतरा अभी टला नहीं है। जबलपुर में सामने आये पॉजिटिव प्रकरण से सरकार चिंतित है। आगामी समय में कई पर्व- त्यौहार भी आने वाले हैं, इस दौरान किसी तरह से संक्रमण न फैले इसके लिए भ्ीा सरकार लेागों से अपील कर रही है।

चिकित्सा जगत से जुड़े लोगों का कहना है कि किसी व्यक्ति को वैक्सीन के दोनों डोज लग जाते हैं तो खतरा कम हो जाता है। यही कारण है कि राज्य में आगामी 26 सितम्बर तक 100 प्रतिशत लोगों को जो वैक्सीन के पात्र हैं, उन्हें वैक्सीन का प्रथम डोज लगवाकर सुरक्षा चक्र प्रदान करने का लक्ष्य रखा गया है।

Devi Maa Dental

मुख्यमंत्री का कहना है कि जन-सहयोग से हमने कोरोना का मुकाबला किया है। स्वास्थ्य और स्थानीय प्रशासन अकेले यह कार्य नहीं कर सकता। कोरोना वॉलेंटियर, जन-प्रतिनिधि और नागरिक अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए वैक्सीन से छूटे लोगों को 17 सितम्बर को वैक्सीनेशन केंद्र तक लाने का कार्य करें। लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए अनुरोध करें, पीले चावल देकर वैक्सीन लगवाने का आमंत्रण दें, घर-घर संपर्क कर लोगों को वैक्सीनेशन का महत्व बतायें।

प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर वैक्सीनेशन केंद्र पर उत्सवी वातावरण बनाया जाएगा, सोशल मीडिया में वैक्सीन का प्रचार कर वैक्सीन लगवाने वाले सेल्फी भी पोस्ट कर सकेंगे ताकि अन्य लोग इसके लिए प्रेरित हों।

--आईएएनएस

एसएनपी/आरजेएस