भारत में अवैध रूप से रह रहे 7 विदेशी नागरिकों को निर्वासित किया गया

नई दिल्ली, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस ने भारत में अवैध रूप से रहने के आरोप में राष्ट्रीय राजधानी में सात विदेशी नागरिकों को पकड़ा है।
 | 
भारत में अवैध रूप से रह रहे 7 विदेशी नागरिकों को निर्वासित किया गया नई दिल्ली, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस ने भारत में अवैध रूप से रहने के आरोप में राष्ट्रीय राजधानी में सात विदेशी नागरिकों को पकड़ा है।

एक अधिकारी ने यहां बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इन सभी को निर्वासित (डिपोर्ट) कर दिया गया है।

अधिकारी के अनुसार, सात विदेशी नागरिकों की पहचान पॉल चिकोजी चीमा, फ्रांसिस एबुबेचुकवु इफेनीचु, विजन उडोमेजुओ, डैनियल ओडिवोम्मा नवाबुएज, क्रिश्चियन ओसाजुवा, मैरी अमाका चीक और एबेले नवामालुबिया के रूप में की गई है और ये सभी लोग नाइजीरिया से हैं। इन्हें विदेशियों के क्षेत्रीय पंजीकरण कार्यालय के समन्वय से निर्वासित किया गया था।

Bansal Saree

पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि शहर के मोहन गार्डन इलाके के पास विदेशियों को घूमते देखा गया था। उसी इलाके में गश्त कर रही पुलिस की एक टीम ने उनके व्यवहार को संदिग्ध पाया और उनसे उनके दस्तावेज मांगे।

हालांकि, वे भारत में रहने के लिए कोई वैध पासपोर्ट या वीजा दिखाने में विफल रहे।

पुलिस ने तब सभी सात नाइजीरियाई लोगों को पकड़ लिया और उन्हें निर्वासन के लिए संबंधित अधिकारियों को सौंप दिया।

मोहन गार्डन क्षेत्र में लगभग 3.75 लाख लोगों की मिश्रित आबादी है।

एक अधिकारी ने कहा, कई विदेशी नागरिक (ज्यादातर अफ्रीकी देशों से) इस इलाके में रह रहे हैं और उनमें से कुछ फर्जी वीजा, एक्सपायर्ड वीजा के साथ रह रहे हैं।

Devi Maa Dental

दिल्ली पुलिस अवैध रूप से रह रहे विदेशी नागरिकों पर कड़ी नजर रखे हुए है और उनके खिलाफ इस महीने कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

--आईएएनएस

एकेके/एएनएम