भवानी नदी के किनारे दी गई बाढ़ की चेतावनी

चेन्नई, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। कोयंबटूर जिला प्रशासन ने भवानी नदी के किनारे बाढ़ की चेतावनी जारी की है । मेट्टुपालयम, पोलाची और वालपराई जैसे इलाके में किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए 300 दमकल कर्मियों और 50 तमिलनाडु विशेष कमांडो की एक टीम को इलाके में भेजी गई है।
 | 
भवानी नदी के किनारे दी गई बाढ़ की चेतावनी चेन्नई, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। कोयंबटूर जिला प्रशासन ने भवानी नदी के किनारे बाढ़ की चेतावनी जारी की है । मेट्टुपालयम, पोलाची और वालपराई जैसे इलाके में किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए 300 दमकल कर्मियों और 50 तमिलनाडु विशेष कमांडो की एक टीम को इलाके में भेजी गई है।

पिल्लोर बांध से मंगलवार को जलाशय में 8,000 क्यूसेक पानी का प्रवाह हुआ, जिससे जलस्तर 97.5 फीट तक पहुंच गया, जो अधिकतम क्षमता से थोड़ा कम है।

भारी बारिश के कारण यरकौड में भूस्खलन हुआ है और इलाके में वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है। मेट्टुपालयम और ऊटी के बीच नीलगिरि माउंटेन रेलवे में ट्रेन सेवाएं गैर-परिचालन थीं, क्योंकि भूस्खलन से क्षतिग्रस्त पटरियों की मरम्मत की जानी बाकी थी।

Bansal Saree

नीलगिरि माउंटेन रेलवे, रेलवे की एक प्रतिष्ठित ट्रेन सेवा है और यहां पर्यटकों का आना-जाना लगा रहता है।

कन्याकुमारी जिले में भारी बारिश से 6 घर क्षतिग्रस्त हो गए।

जिला प्रशासन के आदेश के अनुसार, दमकल कर्मियों ने किसी भी स्थिति से निपटने के लिए कमर कस ली है।

--आईएएनएस

एचके/आरजेएस