बिहार : वाल्मीकिनगर व्याघ्र परियोजना क्षेत्र से तेंदुए का शव बरामद, जांच शुरू

बेतिया, 14 मई (आईएएनएस)। बिहार के वाल्मीकिनगर व्याघ्र परियोजना क्षेत्र से एक तेंदुआ का शव बरामद किया गया है। तेंदुआ के मौत के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल पाया है।
 | 
बिहार : वाल्मीकिनगर व्याघ्र परियोजना क्षेत्र से तेंदुए का शव बरामद, जांच शुरू बेतिया, 14 मई (आईएएनएस)। बिहार के वाल्मीकिनगर व्याघ्र परियोजना क्षेत्र से एक तेंदुआ का शव बरामद किया गया है। तेंदुआ के मौत के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल पाया है।

परियोजना के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि ग्रामीणों की सूचना के बाद कक्ष संख्या एम 26 में पटिरहिया जंगल से लगे नाला के पास एक मादा तेंदुआ का शव मिला है।

सूचना के बाद बाद वन विभाग के कर्मी और आलाधिकारी मौके पर पहुंचे और फिर तेंदुआ के शव का पोस्टमार्टम कराया गया। हालांकि तेंदुए के मौत के कारणों का अब तक पता नहीं चल पाया है।

krishna hospital

परियोजना के निदेशक नेशामणि के ने बताया कि शुक्रवार को बरामद तेंदुआ के शव को देखने से लगता है कि उम्र करीब तीन साल है। शरीर पर कुछ जख्म के निशान पाए गए हैं। उन्होंने कहा तेंदुए की मौत स्वाभाविक लग रही है।

इधर, पशु चिकित्सक मनोज कुमार टोनी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा। फिलहाल तेंदुआ के अंगों का सैंपल जांच के लिए पटना एवं बरेली भेजा जा रहा है। पोस्टमार्टम के बाद तेंदुआ के शव को जला दिया गया।

इस वर्ष यह दूसरी तेंदुआ की मौत हुई है। इसके पूर्व एक जनवरी 2022 को रामनगर में एक तेंदुआ का शव मिला था।

उल्लेखनीय है कि यहां के तेंदुए अक्सर रिहायशी इलाकों में वे विचरण करते हुए पहुंच जाते हैं। साथ ही लोगों पर हमला तो करते ही हैं उनके मवेशियों को भी अपना निवाला बना लेते हैं।

--आईएएनएस

एमएनपी/आरएचए