बिहार के गांधी मैदान में इस बार भी नहीं जलेगा रावण, कालिदास रंगालय में होगा भरत मिलाप

पटना, 10 सितंबर (आईएएनएस)। बिहार सरकार त्योहारों के मौसम में भी कोरोना को लेकर ज्यादा ढील बरतने के मूड में नहीं है। यही कारण है दशहरा के मौके पर इस बार भी पटना के एतिहासिक गांधी मैदान में कोई आयोजन नहीं होगा। इसके बदले गांधी मैदान से सटे कालिदास रंगालय में तीन दिनों तक रामलीला, रावण वा और भरत मिलाप का आयोजन होगा।
 | 
बिहार के गांधी मैदान में इस बार भी नहीं जलेगा रावण, कालिदास रंगालय में होगा भरत मिलाप पटना, 10 सितंबर (आईएएनएस)। बिहार सरकार त्योहारों के मौसम में भी कोरोना को लेकर ज्यादा ढील बरतने के मूड में नहीं है। यही कारण है दशहरा के मौके पर इस बार भी पटना के एतिहासिक गांधी मैदान में कोई आयोजन नहीं होगा। इसके बदले गांधी मैदान से सटे कालिदास रंगालय में तीन दिनों तक रामलीला, रावण वा और भरत मिलाप का आयोजन होगा।

पटना श्री दशहरा कमेटी ट्रस्ट के अध्यक्ष कमल नेपानी ने शुक्रवार को बताया कि कमेटी ने गांधी मैदान में ही छोटे स्तर पर तीन दिन का कार्यक्रम रामलीला, रावण, भरत मिलाप के आयोजन संबंधी प्रस्ताव जिला प्रशासन के सामने रखा था, लेकिन प्रस्ताव पर विमर्श के बाद इसे उपयुक्त नहीं पाया गया।

Bansal Saree

उन्होंने कहा कि गांधी मैदान के पास स्थित कालिदास रंगालय में 3 दिनों का आयोजन होगा। उन्होंने बताया कि इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन करना होगा।

नेपानी ने कहा कि जिलाधिकारी के साथ हुई बैठक में यह भी साफ कहा गया है कि अगर कोरोना वृद्घि के संकेत मिलते हैं तो यह अनुमति रद्द भी की जा सकती है।

इस क्रम में हालांकि इस बार दुर्गा पूजा के आयोजन पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया है। इस कारण इस दुर्गा पूजा में पूजा पंडाल भी सजेंगे और पूजा भी होगी। प्रशासन ने मां दुर्गा की प्रतिमा स्थापित करने की अनुमति दी है। हालांकि बगैर प्रशासन की अनुमति के दुर्गा पूजा का आयोजन नहीं होगा।

Devi Maa Dental

पूजा के दौरान कोविड 19 की गाइडलाइन का कड़ाई से पालन करने की बात कही गई है।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आने के बाद सभी प्रकार के धार्मिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर से प्रतिबंध हटा लिए हैं। हालांकि कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना अनिवार्य किया गया है।

--आईएएनएस

एमएनपी/एएनएम