फिलिस्तीनियों ने वेस्ट बैंक में पत्रकार की हत्या की निंदा की

रामल्लाह/गाजा, 12 मई (आईएएनएस)। कब्जे वाले वेस्ट बैंक में अल-जजीरा की पत्रकार शिरीन अबू अकलेह की हत्या ने फिलिस्तीनियों के बीच निंदा और आक्रोश को जन्म दिया है।
 | 
फिलिस्तीनियों ने वेस्ट बैंक में पत्रकार की हत्या की निंदा की रामल्लाह/गाजा, 12 मई (आईएएनएस)। कब्जे वाले वेस्ट बैंक में अल-जजीरा की पत्रकार शिरीन अबू अकलेह की हत्या ने फिलिस्तीनियों के बीच निंदा और आक्रोश को जन्म दिया है।

पत्रकार की बुधवार सुबह हत्या कर दी गई।

अबू अकलेह के सहयोगियों, फिलिस्तीनी चश्मदीदों और मेडिक्स ने समाचार एजेंसी सिन्हुआ को बताया कि इजरायल के सैनिकों ने उन पर और एक अन्य पत्रकार पर गोलियां चला दीं, जब वे उत्तरी वेस्ट बैंक शहर जेनिन पर इजरायली सेना की छापेमारी को कवर कर रहे थे।

krishna hospital

मीडिया को भेजे गए एक आधिकारिक बयान के अनुसार, फिलिस्तीनी राष्ट्रपति ने अबू अकलेह की मौत के लिए पूरी तरह से इजरायल सरकार को जिम्मेदार ठहराया।

बयान में कहा गया है, अबू अकलेह की हत्या एक जघन्य अपराध है और फिलिस्तीनियों, उनकी भूमि और उनके पवित्र स्थलों के खिलाफ इजरायली अधिकारियों द्वारा अपनाई जाने वाली दैनिक नीति का हिस्सा है।

पूर्वी यरुशलम में रहने वाली एक फिलिस्तीनी-अमेरिकी 51 वर्षीय अबू अकलेह 20 से अधिक वर्षों से अल-जजीरा के लिए काम कर रही थीं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने फिलिस्तीनी क्षेत्रों में मुख्य रूप से इजरायल और फिलिस्तीनियों के बीच संघर्ष और तनाव को कवर किया था।

फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा, अबू अकलेह को जेनिन शरणार्थी शिविर पर एक इजराइली सैन्य छापे के दौरान इजरायली सैनिकों द्वारा सिर में गोली मारी गई।

इसमें कहा गया है कि अल-जजीरा के लिए काम करने वाले एक अन्य पत्रकार समोदी को पीठ में चोट आई है।

फलस्तीनी चश्मदीदों ने कहा कि जब इजरायली सैनिकों ने गोलियां चलाईं तो कई फिलिस्तीनी पत्रकार छापे को कवर कर रहे थे।

अबू अकलेह के बगल में खड़ी एक फिलिस्तीनी पत्रकार शाजा हमायशा ने सिन्हुआ को बताया कि शिरीन कई मिनट तक जमीन पर पड़ी रही और इजरायली सैनिकों की गहन गोलीबारी के कारण कोई भी उस तक उन तक नहीं पहुँच सका।

इजरायली मीडिया के अनुसार, इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने कहा, यह संभावना है कि फिलिस्तीनी बंदूकधारियों ने अंधाधुंध गोलियां चलाईं, और वे ही पत्रकार की दुर्भाग्यपूर्ण मौत का कारण बनी।

बेनेट के कार्यालय द्वारा जारी एक आधिकारिक बयान में कहा गया है, इजरायल ने फिलिस्तीनियों से एक शव परीक्षण और मौजूदा दस्तावेजों और सूचनाओं के आधार पर एक संयुक्त जांच करने के लिए कहा है, लेकिन फिलिस्तीनियों ने इनकार कर दिया है।

इजरायली सेना ने बुधवार को कहा कि अबू अकलेह की हत्या के मामले में तथ्यों को पूरी तरह से पेश करने के लिए एक विशेष जांच दल का गठन किया गया है।

--आईएएनएस

एसकेके/एएनएम