नाटो की सदस्यता लेना फिनलैंड की गलती होगी : पुतिन

मॉस्को, 15 मई (आईएएनएस)। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने एक फोन कॉल में फिनलैंड के अपने समकक्ष साउली निनिस्टो से कहा कि नाटो की सदस्यता के लिए आवेदन करना एक गलती है क्योंकि फिनलैंड की सुरक्षा को कोई खतरा नहीं है।
 | 
नाटो की सदस्यता लेना फिनलैंड की गलती होगी : पुतिन मॉस्को, 15 मई (आईएएनएस)। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने एक फोन कॉल में फिनलैंड के अपने समकक्ष साउली निनिस्टो से कहा कि नाटो की सदस्यता के लिए आवेदन करना एक गलती है क्योंकि फिनलैंड की सुरक्षा को कोई खतरा नहीं है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार- शनिवार को निनिस्टो ने अगले कुछ दिनों में नाटो की सदस्यता लेने के फिनलैंड के फैसले के बारे में पुतिन को फोन पर सूचित किया।

क्रेमलिन ने एक बयान में कहा- जवाब में, पुतिन ने इस बात पर जोर दिया कि सैन्य तटस्थता की पारंपरिक नीति को छोड़ना एक गलती होगी, क्योंकि फिनलैंड की सुरक्षा को कोई खतरा नहीं है।

krishna hospital

पुतिन ने अपने बयान में चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि अगर हेलसिंकी नाटो में शामिल होने की योजना बनाता है, तो इसका रूस-फिनलैंड संबंधों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

दोनों राष्ट्रपतियों ने यूक्रेन में युद्ध के बारे में भी चर्चा की जिसके दौरान पुतिन ने कहा कि रूसी और यूक्रेनी प्रतिनिधियों के बीच शांति वार्ता वास्तव में कीव द्वारा निलंबित की गई, जो एक गंभीर और रचनात्मक बातचीत में रुचि नहीं दिखाता है।

फिनलैंड की सत्तारूढ़ सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी द्वारा देश के सैन्य गठबंधन (नाटो) का सदस्य बनाने की योजना का समर्थन करने के बाद यह कॉल आया।

शनिवार को, फिनलैंड के नाटो में शामिल होने के लिए 53 सदस्यों ने समर्थन दिया, जबकि पांच ने विरोध में वोट दिए और दो तटस्थ रहे।

प्रधान मंत्री सना मारीन ने 12 मई को फिनलैंड को नाटो में शामिल होने के लिए अपने समर्थन की घोषणा की थी।

--आईएएनएस

पीजेएस/एसकेपी