दिल्ली में एक और फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 19 लोग गिरफ्तार

नई दिल्ली, 14 जुलाई (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस ने बुधवार को एक बड़ी कार्रवाई करते हुए कहा कि उसने अमेरिका के वित्त मंत्रालय का फर्जी अधिकारी बनकर एक फर्जी कॉल सेंटर चलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो चुनिंदा नागरिकों को मुफ्त अनुदान प्रदान करता था। पुलिस ने इस मामले में 19 लोगों को गिरफ्तार किया है।
 | 
दिल्ली में एक और फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 19 लोग गिरफ्तार नई दिल्ली, 14 जुलाई (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस ने बुधवार को एक बड़ी कार्रवाई करते हुए कहा कि उसने अमेरिका के वित्त मंत्रालय का फर्जी अधिकारी बनकर एक फर्जी कॉल सेंटर चलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो चुनिंदा नागरिकों को मुफ्त अनुदान प्रदान करता था। पुलिस ने इस मामले में 19 लोगों को गिरफ्तार किया है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि दिल्ली पुलिस की दक्षिण जिला पुलिस की साइबर सेल ने मालवीय नगर इलाके से अमेरिकी नागरिकों को ठगने वाले एक अंतरराष्ट्रीय फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है।

Bansal Saree

अधिकारी ने बताया कि उसने 19 लोगों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से 22 कंप्यूटर, 21 मोबाइल फोन, छह राउटर और तीन स्विच जब्त किए हैं।

अधिकारी ने बताया कि कार्रवाई मालवीय नगर इलाके में अवैध कॉल सेंटर के बारे में ई-मेल के जरिए एक गुमनाम सूचना के आधार पर की गई थी। जिसके बाद वहां मंगलवार रात छापेमारी की गई।

Devi Maa Dental

पुलिस ने बताया कि किराए के मकान में जनवरी 2021 से कॉल सेंटर चल रहा था।

उन्होंने कहा कि परिसर में कुल 22 कंप्यूटर सिस्टम स्थापित किए गए थे, जिनमें से 15 का उपयोग कॉल करने वालों द्वारा किया जा रहा था, जिनमें से तीन पर्यवेक्षकों के रूप में थे, जिन्होंने कॉल परिपक्व होने के बाद एजेंटों को कॉल लिया, जबकि एक कंप्यूटर का उपयोग तकनीकी सहायक द्वारा किया गया था।

अधिकारी ने कहा कि 16 व्यक्ति जिनमें 8 पुरुषों और 7 महिलाएं शामिल थीं, कॉल करने वाले यूएस ग्राहकों को वित्त मंत्रालय के अधिकारी बताकर कॉल करते थे। इस सेंटर ने अमेरिका चुनिंदा नागरिकों को मुफ्त अनुदान भी प्रदान किया था।

पुलिस ने दावा किया कि औसतन तीन निर्दोष अमेरिकी नागरिकों को हर दिन धोखा दिया जा रहा था और औसतन उनसे लगभग 50,000-75,000 रुपये ठगे जा रहे थे।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस