गूगल ने हांगकांग के कुछ यूजर्स के डेटा अधिकारियों को किए थे शेयर :रिपोर्ट

हांगकांग, 12 सितम्बर (आईएएनएस)। टेक दिग्गज गूगल ने पिछले साल कथित तौर पर हांगकांग सरकार को कुछ यूजर्स के डेटा दिए थे, हालांकि यह वादा करने के बावजूद कि वह अधिकारियों से इस तरह के डेटा अनुरोधों को प्रोसेस नहीं करेगा।
 | 
गूगल ने हांगकांग के कुछ यूजर्स के डेटा अधिकारियों को किए थे शेयर :रिपोर्ट हांगकांग, 12 सितम्बर (आईएएनएस)। टेक दिग्गज गूगल ने पिछले साल कथित तौर पर हांगकांग सरकार को कुछ यूजर्स के डेटा दिए थे, हालांकि यह वादा करने के बावजूद कि वह अधिकारियों से इस तरह के डेटा अनुरोधों को प्रोसेस नहीं करेगा।

हांगकांग फ्री प्रेस के अनुसार, पिछले साल टेक और सोशल मीडिया दिग्गजों के साथ, फर्म ने घोषणा की थी कि वह शहर के अधिकारियों से आने वाले यूजर्स की जानकारी के लिए किसी भी अनुरोध का जवाब नहीं देगी, जब तक कि वह अमेरिकी न्याय विभाग के जरिये नहीं किया जाता है।

Bansal Saree

पिछले साल की दूसरी छमाही के दौरान यूजर्स की जानकारी के लिए हांगकांग के अधिकारियों से प्राप्त 43 अनुरोधों के जवाब में गूगल ने कुछ डेटा का शेयर कियाथा।

रिपोर्ट के अनुसार, जिन अनुरोधों का पालन किया गया उनमें से एक आपातकालीन प्रकटीकरण अनुरोध था जिसमें जीवन के लिए एक विश्वसनीय खतरा शामिल था।

इस बीच, फेसबुक ने पिछले साल एक आपातकालीन अनुरोध को अस्वीकार कर दिया था।

इस बारे में अनुरोध किए जाने पर गूगल ने कहा - दो अनुरोध राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित नहीं थे। और एक जांच के हिस्से के रूप में एक मजिस्ट्रेट द्वारा हस्ताक्षरित खोज वारंट द्वारा समर्थित थे।

Devi Maa Dental

टेक दिग्गज ने कहा कि यूजर्स की जानकारी के लिए सरकारी अनुरोधों पर कंपनी की वैश्विक नीति के अनुसार उन्हें संसाधित किया गया था।

सरकारी अनुरोधों का जवाब देने पर गूगल की सामान्य नीति में कहा गया है कि यह अन्य मेटाडेटा प्रदान कर सकता है, जैसे कि नाम, संबद्ध ईमेल और फोन नंबर, आईपी पते, बिलिंग जानकारी, टाइमस्टैम्प और ईमेल हेडर सहित ग्राहक जानकारी शामिल है।

--आईएएनएस

एनपी/आरजेएस