काबुल में तैनात रहेगी वर्दीधारी पुलिस

काबुल, 13 सितम्बर (आईएएनएस)। तालिबान ने घोषणा की है कि काबुल में तैनात समूह के मौजूदा बलों को जल्द ही पूर्व अफगान सरकार के पुलिस बलों की तरह ही वर्दी में तैनात किया जाएगा।
 | 
काबुल में तैनात रहेगी वर्दीधारी पुलिस काबुल, 13 सितम्बर (आईएएनएस)। तालिबान ने घोषणा की है कि काबुल में तैनात समूह के मौजूदा बलों को जल्द ही पूर्व अफगान सरकार के पुलिस बलों की तरह ही वर्दी में तैनात किया जाएगा।

तालिबान के सांस्कृतिक आयोग के सदस्य अनामुल्ला समांगानी ने रविवार को टोलो न्यूज को बताया कि मौजूदा तालिबान बलों, जिनके पास वर्दी नहीं है, उनको काबुल से प्रांतों में सैन्य चौकियों पर स्थानांतरित किया जाएगा।

हालांकि, अनामुल्ला ने यह नहीं बताया कि काबुल में कितनी पुलिस और तालिबान की सेना तैनात की जाएगी।

Bansal Saree

अनामुल्ला ने कहा, पुलिस और वर्दीधारी बल, जिन्होंने अपने विशिष्ट क्षेत्रों में प्रशिक्षण प्राप्त किया है और कौशल प्राप्त किया है, उन्हें जल्द ही काबुल की सुरक्षा बनाए रखने और अपनी नौकरी शुरू करने की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

उन्होंने कहा, उसके बाद मुजाहिदीन, जो विभिन्न पुलिस विभागों में तैनात हैं और जिनके पास वर्दी नहीं है, उन्हें पुलिस मुख्यालय और सेना कोर (प्रांतों में) में तैनात किया जाएगा।

इस बीच, कई काबुल निवासियों ने कहा कि सुरक्षा बनाए रखने और आपराधिक गतिविधियों को रोकने के लिए शहर में वर्दीधारी बलों को तैनात किया जाना चाहिए।

निवासियों के अनुसार, लोग वर्दीधारी पुलिस के आदी हैं और वे शहर में उनके साथ अधिक सहज महसूस करेंगे।

निवासियों ने यह भी कहा कि नए बलों को अपराधियों से लड़ना चाहिए और शहर में व्यवस्था बहाल करनी चाहिए।

Devi Maa Dental

टोलो न्यूज ने काबुल निवासी शेख जमान के हवाले से कहा, उनके पास एक विशिष्ट वर्दी होनी चाहिए और वे शहर में सुव्यवस्थित तरीके से पेश आने चाहिए और सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखनी चाहिए, ताकि लोगों को चिंता न हो।

काबुल के एक अन्य निवासी अब्दुर्रहमान ने कहा, हमने ऐसे मामले देखे हैं, जहां कुछ लोगों ने खुद को तालिबान बलों के रूप में जताते हुए शहर में अवैध कार्रवाई की है।

अगस्त में पूर्व सरकार के पतन के बाद, पुलिस ने अपने पदों को छोड़ दिया था।

तालिबान बलों ने शहर पर कब्जा कर लिया।

तालिबान बल के सदस्य अब्दुल मजीद ने कहा कि वह तखर प्रांत में कई वर्षों से ड्यूटी पर रहे और पूर्व सरकार के पतन के बाद उन्हें काबुल के पीडी 2 में सुरक्षा बनाए रखने की जिम्मेदारी सौंपी गई।

माजिद के अनुसार, उसके जैसे सैकड़ों तालिबानी बल जो पहले प्रांतों में थे, अब काबुल में सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाले हुए हैं।

उन्होंने कहा, अब लोग डकैती और अन्य असुरक्षा के मुद्दों से सुरक्षित हैं और उन्हें हमारे द्वारा प्रदान की गई सुरक्षा को लेकर खुश होना चाहिए।

--आईएएनएस

एकेके/आरजेएस