ई-रिक्शा चालक की मौत, परिवार ने पुलिस पर लगाया हमले का आरोप

बुलंदशहर, 11 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में दो पुलिसकर्मियों द्वारा कथित तौर पर हमला किए जाने के बाद एक ई-रिक्शा चालक की मौत हो गई है।
 | 
ई-रिक्शा चालक की मौत, परिवार ने पुलिस पर लगाया हमले का आरोप बुलंदशहर, 11 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में दो पुलिसकर्मियों द्वारा कथित तौर पर हमला किए जाने के बाद एक ई-रिक्शा चालक की मौत हो गई है।

अधिकारियों के अनुसार, पीड़ित गौरी शंकर के शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं होने के बावजूद दोनों पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। अधिकारियों ने कहा कि प्राकृतिक कारणों से उनकी कथित तौर पर मौत हुई है।

बुलंदशहर पुलिस ने एक बयान में कहा कि चौधेरा गांव में रविवार शाम को घटना हुई। पुलिस ने स्थानीय मेले की ओर जा रहे एक ई-रिक्शा को रोकने की कोशिश की। इस दौरान चालक बेहोश हो गया और उसे अस्पताल ले जाया गया, लेकिन अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई। शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं हैं। पीड़ित लंबे समय से बीमार था। आरोप है कि उसे पुलिसकर्मियों ने पीटा था जिसकी जांच की जा रही है।

Bansal Saree

पुलिस ने कहा कि चालक को दिल की समस्या थी और वह तपेदिक का भी मरीज था। उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा सामना किए जाने के बाद वह बेहोश होकर गिर गया था।

हालांकि, परिवार ने आरोप लगाया कि बूथ प्रभारी और पुलिस कांस्टेबल ने उनके साथ मारपीट की, जिससे उनकी मौत हो गई। जिसके बाद दोनों पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है।

पुलिस ने कहा कि पीड़ित की अलीगढ़ अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) संतोष सिंह ने कहा कि वे पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं ताकि यह पता लगाया जा सके कि पीड़ित को कोई चोट तो नहीं लगी थी। पीड़ित परिवार की ओर से अभी तक पुलिसकर्मियों के खिलाफ कोई तहरीर नहीं दी गई है।

Devi Maa Dental

--आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस