आईएसआई के नए प्रमुख को लेकर इमरान खान और पाक सेना में तनातनी

नई दिल्ली, 11 अक्टूबर (आईएएनएस)। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सेना से कहा है कि वह इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) के महानिदेशक फैज हमीद को बदलने के फैसले में शामिल नहीं थे। फ्राइडे टाइम्स की रिपोर्ट में यह दावा किया गया है।
 | 
आईएसआई के नए प्रमुख को लेकर इमरान खान और पाक सेना में तनातनी नई दिल्ली, 11 अक्टूबर (आईएएनएस)। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सेना से कहा है कि वह इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) के महानिदेशक फैज हमीद को बदलने के फैसले में शामिल नहीं थे। फ्राइडे टाइम्स की रिपोर्ट में यह दावा किया गया है।

पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार नजम सेठी ने एक टीवी शो में कहा कि इस मामले में प्रधानमंत्री के रुख से गतिरोध पैदा हो गया है, यही वजह है कि अधिसूचना पर हस्ताक्षर नहीं किए गए हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि आईएसपीआर की ओर से घोषणा के बाद पीएम हाउस से कोई पुष्टि नहीं हुई और यह देरी असामान्य है। अब यह सामने आया है कि इस फैसले से पीएम खान और सेना के बीच तनाव पैदा हो गया है।

Bansal Saree

सेठी ने कहा कि लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद की पेशावर कोर कमांडर के रूप में नियुक्ति और जनरल नदीम अंजुम की नए आईएसआई, डीजी के रूप में नियुक्ति की घोषणा प्रधानमंत्री आवास से आनी चाहिए, क्योंकि हमेशा की तरह, प्रधानमंत्री ही आईएसआई डीजी की नियुक्ति करते हैं।

सेठी ने कहा कि इसकी घोषणा करने वाली प्रेस विज्ञप्ति रावलपिंडी से आई है न कि इस्लामाबाद से।

पाक पीएम द्वारा बुलाई गई राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक में लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद की उपस्थिति भी असामान्य थी। उनके तबादले के आदेश जारी किए गए थे, लेकिन जनरल फैज ने बैठक में आईएसआई डीजी के रूप में भाग लिया।

Devi Maa

सेठी ने यह भी कहा कि नागरिक और सैन्य नेतृत्व के बीच इस प्रकार का गतिरोध अक्सर पार्टियों को बिना किसी वापसी के बिंदु (प्वाइंट ऑफ नो रिटर्न) पर ले जाता है, यह सुझाव देता है कि यह प्रकरण नागरिक-सैन्य संबंधों को प्रभावित कर सकता है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि राष्ट्रीय सुरक्षा बैठक से कुछ खास नहीं निकला। आईएसपीआर और पीएम हाउस दोनों खामोश हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि सेठी के अनुसार, कुछ कैबिनेट सदस्य भी तनाव कम करने के लिए शामिल हुए, लेकिन अभी गतिरोध बना हुआ है।

--आईएएनएस

एकेके/आरजेएस