गजब : ये शहर पर्यटकों के लिए बन चुका है खास, जो बसा है जमीन के अंदर

108
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क : दक्षिण ऑस्ट्रेलिया में जमीन के नीचे बसा एक शहर है कूबर पेड़ी। इस शहर की खासियत यह है कि यहां के लगभग 60 फीसदी लोग जमीन के अंदर बने घरो में रहते है। जमीन के अंदर बने, गुफा की तरह दिखने वाले इन मकानो को डगआउट्स कहा जाता है। इन मकानों में हर प्रकार की सुख सुविधाएं पायी जाती है। आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि यहां पर ओपल की बहुत सारी खदाने है और इन खदानों में लगभग 1500 घर हैं, जिसमें करीब 3500 लोग रहते हैं। ओपल एक बेशकीमती पत्थर होता है जिसका रंग दूधिया होता है। ये माइंस बाहर से बहुत ही साधारण नजर आती हैं। लेकिन अंदर से ये किसी फाइव स्टार होटल से कम नहीं हैं, और यहाँ आकर आपको पता चलेगा कि आप एक अलग ही दुनिया में खड़े हैं। यहां कई सारे होटल, चर्च, स्टोर, म्यूजियम के अलावा गिफ्ट शॉप भी है। यहां कई हॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग भी हुई है।

graund home

ये खबर भी पढ़ें-रहस्यमयी मंदिर! रात में रुकने पर यहां इंसान बन जाता है पत्थर का

यहां न तो जरूरत है एसी की और न ही हीटर की

यहां पर माइनिंग का काम 1995 में शुरू हुआ था। चुकी कूबर पेडी एक डेजर्ट ऐरिया हैं इसलिए यहां पर गर्मियों में तापमान बहुत ज्यादा जबकि सर्दियों में बहुत ही कम हो जाता हैं इसके कारण यहां रहने वाले लोगों को बहुत तकलीफ सामना करना पड़ता था। इसका यह हल निकाला गया की लोगो को माइनिंग के बाद खाली बची खदानों में शिफ्ट कर दिया गया। इन अंडरग्राउंड घरों में न तो गर्मियो में एयर कंडीशन की जरूरत पड़ती है और न ही सर्दियों में हीटर की। आज यहां पर ऐसे तकरीबन १५०० घर है जिसमे कूबर पेडी की सम्पूर्ण आबादी रहती है। इन्हें डग आउट्स कहा जाता है।

underground3

ये खबर भी पढ़ें-देवभूमि उत्तराखंड़ में मौजूद है ऐसी गुफा जहां छुपा है दुनिया खत्म होने का रहस्य !

ये शहर बन चुका है पर्यटकों के लिए आकर्षण का केन्द्र

जमीन के नीचे ये घर पूरी तरह से फर्निश और सारी सुख सुविधाओं से लैस हैं। यहां कई हॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग होती रहती है। पिच ब्लैक फिल्म की शूटिंग के बाद प्रोडक्शन ने फिल्म का स्पेसशिप यहीं छोड़ दिया था। अब यह पर्यटकों के लिए आकर्षण बन चुका है।