सुनिये चहेते गायक पप्पू कार्की की Live Chat, जब नेपाल पहुंचकर पप्पू कार्की ने फैंस से की थी ये बड़ी बात

2853
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी – न्यूज टुडे नेवटर्क: संजय पाठक- अपनी मखमली आवाज के दम पर लाखों- लाख संगीत के चाहने वालों के दिलों पर राज करने वाले युवा लोकगायक पप्पू कार्की का यूं असमय चले जाना सबको रूला गया। कुमाऊंनी गीत- संगीत को आगे बढाने में पप्पू कार्की उन चुनिंदा गायकों में से एक थे जो हमेशा अपनी  बेमिसाल गायकी से समां बांध देते थे।

pappu karki death on accident

यही वजह थी कि उत्तराखंड़ के साथ ही देश- विदेश में उत्तराखंड़ी संस्कृति के चाहने वालों के बीच पप्पू कार्की बेहद पसंदीदा नाम थे। आज सुबह करीब 5 बजे युवा गायक पप्पू कार्की अपने साथी कलाकारों के साथ गोनियारो गांव में हो रही रामलीला के कार्यक्रम में प्रस्तुति देने के बाद हल्द्वानी के लिए निकले थे। लेकिन बीच रास्ते में हैड़ाखान मोटर मार्ग के पास काल का क्रूर चक्र उनका रास्ता रोके खड़ा था।

जिस कार में अपने बाकि 4 साथियों के साथ गायक पप्पू कार्की लौट रहे थे वह अचानक अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे उतर गई। हादसे की भयावहता को इस बात से समझा जा सकता है कि मौके पर ही देवभूमि के इस सुरीले सपूत ने अपने 2 साथियों के साथ दम तोड़ दिया। जैसे ही इस हादसे की खबर गायक पप्पू कार्की के चाहने वालों को लगी मानो वक्त एक पल के लिए ठहर सा गया।

किसी ने भी इस खबर पर यकीन नही किया। करता भी कैसे, कल तक जिस गायक की सुरीली आवाज से हर कोई सुरों के रंग में सराबोर हो जाता था , वह आज ऐसे कैसे जा सकता था। ऐसे ही तमाम सवाल गायक पप्पू कार्की के लाखों चाहने वालों ने किए। लेकिन हर सवाल का एक ही जवाब आया कि देवभूमि का सुरीले सपूत पप्पू कार्की की अलविदा…..

देखें वीडियो- नेपाल से लाइव चैट पर पप्पू कार्की ने जीता उत्तराखंडियों का दिल

देश ही नही विदेश में रहने वाले उत्तराखंड़ी मूल के लोगों के लिए वाकई यह यकीन कर पाना मुश्किल हो रहा है कि उनका पसंदीदा गायक कलाकार अब इस दुनिया में नही रहा। वो मानने को तैयार ही नही हैं कि उनका सुरीला सुपरस्टार अब इस दुनिया में नही है। क्योंकि जब भी पप्पू कार्की के गीत सुनते हैं तो मानो ऐसा लगता है कि वह हमारे बीच ही तो है।

बहुत याद आओगे पप्पू कार्की

यह सच भी है भले ही काल के क्रूर चक्र ने सुप्रसिद्ध गायक कलाकार पप्पू कार्की को दैहिक रूप से हमसे अलग कर दिया हो लेकिन अपने सुरीले गीतों की बदौलत वो हमेशा हमारे बीच ही रहेंगे। जब तक सूरज चांद रहेगा, देवभूमि के सुरीले बेटे पप्पू कार्की तेरा नाम रहेगा।

“न्यूज टुडे नेवटर्क” की ओर से उत्तराखंड़ के सुप्रसिद्ध गायक पप्पू कार्की को अश्रूपूर्ण श्रद्वांजलि…..भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे और इस दुख की घड़ी में परिजनों और शुभचिंतकों को दुख को सहन करने की शक्ति भी….ओम शांति