newstodaynetwork Banner

माफिया डान की हिमायत में उतरा विपक्ष, बसपा नेता ने कहा- मुख्तार मुसलमान इसलिए बनाया जा रहा निशाना

न्यूज टुडे नेटवर्क। माफिया डान मुख्तार अंसारी की यूपी वापसी के बाद अब पूरा विपक्ष डान के पक्ष में एक होता नजर आ रहा है। धीरे धीरे मुख्तार की यूपी वापसी को लेकर सियासत भी तेज हो गयी है। सपा और बसपा मुख्तार की हिमायत के तौर पर अब तक खुलकर सामने आ चुकी हैं।
 | 
माफिया डान की हिमायत में उतरा विपक्ष, बसपा नेता ने कहा- मुख्तार मुसलमान इसलिए बनाया जा रहा निशाना

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। माफिया डान मुख्‍तार अंसारी की यूपी वापसी के बाद अब पूरा विपक्ष डान के पक्ष में एक होता नजर आ रहा है। धीरे धीरे मुख्‍तार की यूपी वापसी को लेकर सियासत भी तेज हो गयी है। सपा और बसपा मुख्‍तार की हिमायत के तौर पर अब तक खुलकर सामने आ चुकी हैं। मुख्‍तार के यूपी आने के बाद बसपा नेता धर्मवीर सिंह ने सरकार पर तंज कसते हुए यहां तक कह डाला कि मुख्तार चूंकि मुसलमान है इसलिये उसे निशाना बनाया जा रहा है। जबकि माफिया डान अंसारी पर पहले से ही कई आपराधिक केस दर्ज हैं।

Devi Maa Dental

पंजाब जाने से पहले मुख्‍तार यूपी की बांदा जेल में ही बंद था लेकिन रंगदारी के एक मामले में पंजाब पुलिस उसे अपने साथ ले गयी थी। इस मामले में पिछले दो सालों से ही पंजाब की जेल मुख्‍तार का ठिकाना बनी हुयी थी।

माफिया डान को यूपी वापस लाने के लिए यूपी सरकार उच्‍चतम न्‍यायालय तक जा चुकी थी। पिछले काफी समय में मुख्‍तार को वापस लाने के लिए यूपी पुलिस को आठ बार वापस लौटना पड़ा था। मुख्तार के बड़े भाई और गाजीपुर के सांसद अफजाल अंसारी ने कहा कि उन्हें न्याय पर भरोसा लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार पर नहीं। उन्होंनें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के कथित बयान कि गाड़ी तो कहीं भी पलट सकती है का जिक्र करते हुये कहा कि ऐसे बयान डर पैदा करते हैं।

Bansal Saree

सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव भी कहते हैं कि उन्हें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है लेकिन उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार रहते लगता नहीं कि न्याय मिल पायेगा। कांग्रेस तो खुल कर मुख्तार के समर्थन में रही है नहीं तो उसे रंगदारी के मामले में दो साल तक पंजाब की जेल में नहीं रखा जाता। मुख्‍तार अंसारी पर विधायक कृष्णानंद राय की हत्या का मुकदमा भी चल रहा है। उधर उनकी पत्नी अलका राय ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा को कई पत्र लिखे कि वो मुख्तार को वापस उत्तर प्रदेश भिजवाने में सहयोग करें लेकिन उन्हें कभी भी पत्र का जवाब नहीं मिला।

अब गाजीपुर से भाजपा विधायक अलका राय कहती हैं कि उच्चतम न्यायालय के आदेश से मुख्तार अंसारी उत्तर प्रदेश आ गया है। अब उसके खिलाफ चल रहे मुकदमों का ट्रायल पूरा होगा। न्याय के इंतजार में लंबित केस के पीड़ितों को न्याय मिलेगा। मुख्तार को लेकर राज्य के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कांग्रेस पर करारा वार किया और कहा कि इस माफिया को कांग्रेस ने रिश्तेदार की तरह पाला। उसे बुलेटप्रूफ एंबुलेंस दी और जेल के बगल में बंगले पर रखा।