newstodaynetwork Banner

Bareilly-प्रभारी मंत्री श्रीकांत बोले-अफसर कार में नहीं, बाइक से घूमकर लें विकास कार्यों का जायजा

न्यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री व जनपद के प्रभारी मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने शुक्रवार को जिले में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा की। समीक्षा में 50 लाख से ऊपर की लागत की कुल 305235 करोड़ की 167 परियोजनाएं शामिल थीं। प्रभारी मंत्री ने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि सभी
 | 
Bareilly-प्रभारी मंत्री श्रीकांत बोले-अफसर कार में नहीं, बाइक से घूमकर लें विकास कार्यों का जायजा

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री व जनपद के प्रभारी मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने शुक्रवार को जिले में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा की। समीक्षा में 50 लाख से ऊपर की लागत की कुल 305235 करोड़ की 167 परियोजनाएं शामिल थीं। प्रभारी मंत्री ने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि सभी परियोजनाओं में गुणवत्ता के लिए सतत निगरानी व समीक्षा करें। साथ ही कहा कि अफसर बाइक से घूमकर सड़क व विकास कार्यों की स्थिति देखें जहां भी काम हुआ हो वहां पर यह बोर्ड लगे जिसमें परियोजना व उसका अनुरक्षण करने वाली कार्यदायी संस्था का ब्यौरा दर्ज हो।

Devi Maa Dental

उन्होंने जिलाधिकारी को जनपद में चल रहे सभी निर्माण कार्यों की गुणवत्ता की जांच सुनिश्चित करने के लिए सीडीओ की अध्यक्षता में समिति बनाने के निर्देश दिए जो भी परियोजना पूरी हो गई हो विभाग उसका सर्टिफिकेट डीएम को दें और डीएम उसका भौतिक निरीक्षण करें। साथ ही जो 66 परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं उनका भी भौतिक निरीक्षण करा लिया जाए। उन्होंने कहा कि पीडब्ल्यूडीए सेतु निगम के सभी लंबित कार्यों की समीक्षा कर लें। सभी कार्यों के गुणवत्ता की जांच भी कर लें।

जल निगम के कार्यों की गुणवत्‍ता की जांच हो

जलनिगम द्वारा बनाई गई पानी की टंकियों अमृत योजना के तहत पेयजल लाइनों के निर्माण व गृह संयोजन व सीवरेज योजना के कार्यों की गुणवत्ता की जांच करायें। लापरवाही मिले तो ठेकेदारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायें।

Bansal Saree

16 विद्यालय बनकर तैयार

उन्होंने कहा कि जनपद में 16 उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बनकर तैयार हो गए हैं लेकिन पोस्ट स्वीकृत न होने से उनका संचालन नहीं शुरू हो पाया है। इनकी पूरी रिपोर्ट तैयार कर शासन को भेजें और शीघ्र ही उनका संचालन शुरू करायें। इसमें किसी भी प्रकार की ढिलाई न हो। उन्होंने कहा कि जिस भी विधानसभा या लोकसभा क्षेत्र में कोई भी परियोजना चल रही है तो उसकी जानकारी संबंधित क्षेत्र के जनप्रतिनिधि को जानकारी होनी चाहिए।

ये भी दिए अफसरों को निर्देश

उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि जिन भी परियोजनाओं में लापरवाही के कारण विलंब हुआ है। सभी में जवाबदेही सुनिश्चित की जाए। डीएम यह सुनिश्चित करें। अधूरे कार्यों पर संबंधित कार्यदायी संस्था के खिलाफ एफआईआर करायें। यह भी निर्देश दिए कि नगर आयुक्त स्मार्ट सिटी एडवाइजरी बोर्ड की बैठक जनप्रतिनिधियों के साथ करायें । स्मार्ट सिटी की परियोजनाओं के बारे में जानकारी जनप्रतिनिधियों को हो उनसे सुझाव भी लिये जाए। सभी परियोजनाओं की जानकारी ब्लक डोमेन में रहे। पूरी व्यवस्था पारदर्शी हो यह सुनिश्चित किया जाए।

पंचायत घर से लेकर डीएम कार्यालय का रोस्‍टर तैयार कर लें

उन्होंने कहा कि पंचायत घर से लेकर डीएम के कार्यालय का रोस्टर तैयार हो जाये। किस दिन कौन सा अधिकारी किस क्षेत्र में कहां पर प्रवास पर रहेगा। इसकी जानकारी जनप्रतिनिधियों के साथ ही आम जन को भी हो यह सुनिश्चित किया जाए। इस अवसर पर महापौर, विधायक शहर, विधायक मीरगंज, विधायक बहेड़ी,  विधायक नवाबगंज, विधायक भोजीपुरा, विधायक बिथरी चैनपुर, विधायक आंवला, समस्त जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।