newstodaynetwork Banner

Bareilly-आईकन क्रिएटोज इंक्यूबेटर सेंटर की तरफ से नारायण कॉलेज में स्टार्ट अप पर सेमिनार, छात्रों की जिज्ञासाएं भी दूर कीं

न्यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट लोकल फॉर वोकल, आत्मनिर्भर भारत को लेकर शुक्रवार को नारायण कॉलेज में आईकन क्रिएटोज इंक्यूबेटर सेंटर की तरफ से सेमिनार हुआ जिसमें विद्यार्थियों को स्टार्टअप की जानकारी दी गई। बताया गया कि किस तरह से इंक्यूबेटर सेंटर के जरिये खुद अपना व्यवसाय शुरू कर सकते
 | 
Bareilly-आईकन क्रिएटोज इंक्यूबेटर सेंटर की तरफ से नारायण कॉलेज में स्टार्ट अप पर सेमिनार, छात्रों की जिज्ञासाएं भी दूर कीं

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट लोकल फॉर वोकल, आत्‍मनिर्भर भारत को लेकर शुक्रवार को नारायण कॉलेज में आईकन क्रिएटोज इंक्‍यूबेटर सेंटर की तरफ से सेमिनार हुआ जिसमें विद्यार्थियों को स्‍टार्टअप की जानकारी दी गई। बताया गया कि किस तरह से इंक्‍यूबेटर सेंटर के जरिये खुद अपना व्‍यवसाय शुरू कर सकते हैं। इसके लिए आईकन क्रिएटोज इंक्‍यूबेटर सेंटर की तरफ से मदद की जाएगी। इस दौरान छात्रों ने कुछ प्रश्‍न भी पूछे जिनका समाधान भी किया गया।

Devi Maa Dental

सेमिनार में कॉलेज के प्रोजेक्‍ट मैनेजर गौरव सक्‍सेना व प्‍लेसमेंट ऑफिसर प्रिंस गौड़ ने बताया कि इंक्यूबेशन सेंटर्स नए स्टार्टअप के लिए इन्वेस्टमेंट, बिजनेस को प्रमोट करने, नेटवर्किंग बढ़ाने और मार्केट असेसमेंट जैसे कार्यों में छात्रों की मदद करेंगे। नए प्रोडक्ट को कहां बेचना है।

Bareilly-आईकन क्रिएटोज इंक्यूबेटर सेंटर की तरफ से नारायण कॉलेज में स्टार्ट अप पर सेमिनार, छात्रों की जिज्ञासाएं भी दूर कीं

Bansal Saree

इसके लिए स्ट्रेटजी कैसी होगी, प्रोडक्ट में क्या बदलाव करना है, इनका समाधान नारायण कॉलेज के इंक्‍यूबेशन सेंटर पर मिलेगा। इसी तरह बिजनेस करने के लिए फिक्की, सीआईआई जैसी बिजनेस संस्थाओं और बिजनेस हाउस से संपर्क बढ़ाने का काम भी होगा।

सीड इन्वेस्टमेंट यानी बिजनेस के लिए प्रारंभिक पूंजी कैसे मिलेगी, कहां से लोन मिल सकता है, इनका प्रबंधन भी सेंटर्स करेंगे। उन्‍होंने बताया कि इंक्यूबेशन सेंटर्स में व्यवसाय स्किल सिखाने से लेकर बिजनेस में कहां कितना रिस्क होगा, उसकी जरूरतें क्या होंगी, कैसे कम से कम लागत में ज्यादा बड़ा बिजनेस खड़ा किया जा सकता है और कैसे कम पूंजी में लाभ कमाया जा सकता है, इनके बारे में बताया जाएगा।

इंक्यूबेशन सेंटर्स ने किसी बिजनेस आइडिया को पास कर दिया तो न केवल वित्तीय मदद मिलने में आसानी भी होगी बल्कि उस बिजनेस के सफल होने की संभावना भी बढ़ जाएगी। इंक्यूबेशन सेंटर्स निजी और सरकारी क्षेत्रों में कार्य करेगा।