newstodaynetwork Banner

शाहजहांपुर: शादी के 13 साल तक बच्चा नहीं हुआ, तांत्रिक से पूजा करवाई और हो गई महिला की मौत

न्यूज टुडे नेटवर्क। पुवायां क्षेत्र के गांव कहमारा में शनिवार रात ससुराल में संदिग्ध परिस्थिति में महिला की मौत हो गई। भाई ने तांत्रिक पर प्रताड़ना देकर हत्या का आरोप लगाया। बताया कि शादी के 13 साल तक बच्चा् न होने पर ससुराली उसे तांत्रिक के जरिये प्रताडि़त कर रहे थे। पुलिस ने पांच लोगों
 | 
शाहजहांपुर: शादी के 13 साल तक बच्चा नहीं हुआ, तांत्रिक से पूजा करवाई और हो गई महिला की मौत

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। पुवायां क्षेत्र के गांव कहमारा में शनिवार रात ससुराल में संदिग्ध परिस्थिति में महिला की मौत हो गई। भाई ने तांत्रिक पर प्रताड़ना देकर हत्या का आरोप लगाया। बताया कि शादी के 13 साल तक बच्चा् न होने पर ससुराली उसे तांत्रिक के जरिये प्रताडि़त कर रहे थे। पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर दो को हिरासत में ले लिया। मौके से हवन सामग्री व यज्ञ का सामान भी बरामद हुआ है।

Devi Maa Dental

शनिवार की रात गांव कहमारा निवासी शारदा देवी पत्नी सर्वेश कुमार (31) की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। जानकारी पर महिला की ससुराल वाले पहुंच गए। भाई ने तांत्रिक पर प्रताड़ना देकर बहन की हत्या करने का आरोप लगाया। पुलिस ने तहरीर के आधार पर पति सर्वेश, ससुर बटेश्वर, मुनीश व दुर्गेश पुत्र बटेश्वर तथा तांत्रिक के खिलाफ तांत्रिक प्रताड़ना देकर हत्या करने की रिपोर्ट दर्ज करने के बाद पति व ससुर को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

कोतवाल कुंबर बहादुर सिंह ने बताया कि मौके से अधजले कपड़े, हवन यज्ञ का सामान इत्यादि बरामद किया गया है। खुलासे के लिए टीमें गठित कर दी गई है।

Bansal Saree

ससुराली आए दिन कर रहे थे प्रताडि़त

शनिवार की रात कहमारा में संदिग्ध परस्थिति में महिला की मौत हो गई। जानकारी मिलते ही परिजनों साथ पहुंचे भाई मुनीश पुत्र राजाराम ग्राम मार थाना बिल्संडा जनपद पीलीभीत ने आरोप लगाया कि उसने 13 वर्ष पूर्व अपनी बहन शारदा देवी की शादी गांव कहमारा निवासी सर्वेश पुत्र बटेश्वर के साथ की थी। उसके संतान न होने के कारण उसकी ससुराल वाले शारदा देवी को आए दिन प्रताड़ना देकर उसके साथ मारपीट करते थे। भाई द्वारा समझाने के उपरांत शनिवार की रात को संतान की प्राप्ति के लिए बहन शारदा देवी को तांत्रिक ने प्रताड़ना देकर उसकी हत्या कर दी।