newstodaynetwork Banner

जंगल में अमंगल: शिकारियों के जाल में फंसकर करंट से बाघ व सूअर की ऐसे चली गई जान

लखीमपुर खीरी। गोला के महेशपुर रेंज क्षेत्र के जंगल में अमंगल हो गया। ग्राम डोकरपुर एवं स्वामीदयाल पुर गांव के बीच पिरई नाले के पास खेतों में शिकारियों ने करंट का जाल फैला दिया जिसमें फंसकर एक बाघ व एक सूअर की मौत हो गई। दोनों के शव पोस्टमार्टम के लिए बरेली आईवीआरआई भेजे गए
 | 
जंगल में अमंगल: शिकारियों के जाल में फंसकर करंट से बाघ व सूअर की ऐसे चली गई जान

लखीमपुर खीरी। गोला के महेशपुर रेंज क्षेत्र के जंगल में अमंगल हो गया। ग्राम डोकरपुर एवं स्वामीदयाल पुर गांव के बीच पिरई नाले के पास खेतों में शिकारियों ने करंट का जाल फैला दिया जिसमें फंसकर एक बाघ व एक सूअर की मौत हो गई। दोनों के शव पोस्‍टमार्टम के लिए बरेली आईवीआरआई भेजे गए हैं।

महेशपुर रेंज की बीट आंवला के गांव डोकरपुर का मामला है। सूचना पर थानाध्यक्ष मितौली अनिल कुमार सैनी तथा पुलिस उपाधीक्षक मितौली शीतांशु कुमार मय फोर्स पहुंचे। उन्‍होंने घटनास्थल का निरीक्षण किया। दक्षिण खीरी वन रेंज के डीएफओ समीर व डीएफओ अनिल पटेल फील्ड डायरेक्टर दुधवा संजय पाठक, डब्ल्यू डब्ल्यू एफ के अधिकारीगण  एवं  मुख्य वन संरक्षक लखनऊ आरके सिंह  तथा रेंजर मोबीन आरिफ भी सूचना पाकर अपने स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे।

काफी दिनों से लगाया हुआ था तार

ग्रामीणों ने बताया कि उक्त स्थान पर क्षेत्र के कुछ शिकारियों ने जंगली जानवरों के शिकार के लिए बिजली तार लंबे अरसे से लगाया था, जिसकी सूचना कई बार संबंधित वन कर्मी को दी गयी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस कारण शिकारियों के हौसले बुलंद थे।

5-6 साल के बीच है बाघ की उम्र

वेटनरी डॉक्टर पंकज सिंह व अनुपम सिंह ने बताया कि बाघ की उम्र लगभग 5 से 6 साल की है। लोहे का तार बाघ के गले में फंसने से मृत्यु हुई है।