कंटेनर ने पिकअप को मारी टक्कर, एक की मौत, 17 घायल

न्यूज टुडे नेटवर्क। शाहजहांपुर जिले के खुटार ब्लॉक के गांव नवदिया सरांय के करीब अठारह श्रमिक एक माह पूर्व हरियाणा में गन्ने की छिलाई करके दिवाली के त्यौहार नजदीक आते देख बृहस्पतिवार को घर लौटते समय बरेली में खड़ी पिकअप को एक कंटेनर ने पीछे से टक्कर मार दी। जिसमें एक की मौके पर ही
 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। शाहजहांपुर जिले के खुटार ब्लॉक के गांव नवदिया सरांय के करीब अठारह श्रमिक एक माह पूर्व हरियाणा में गन्ने की छिलाई करके दिवाली के त्यौहार नजदीक आते देख बृहस्पतिवार को घर लौटते समय बरेली में खड़ी पिकअप को एक कंटेनर ने पीछे से टक्कर मार दी। जिसमें एक की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि मृतक के भाई की हालत गंभीर देख पीलीभीत रेफर कर दिया गया है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और अन्य घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

Devi Maa Dental

जहा डॉक्टर ने मरहम पट्टी छुट्टी दे दी है। जिसके बाद श्रमिक घर लौट आये और पूरे मामले की जानकारी दी। मृतक के घर सूचना मिलते ही कोहराम मच गया। क्षेत्र के गांव नवदिया सरांय निवासी मोतीलाल का 28 वर्षीय पुत्र मटरू, भाई बलराम, रामसागर, वेद प्रकाश, दिनेश, जगदीश, दीनदयाल, राजकुमार, रामशरन, हरिदेव, सुनील, संजय और अन्य छह लोग एक माह पूर्व हरियाणा गन्ने की छिलाई करने गए थे। धनतेरस, दीपावली और भैया दूज के नजदीक त्यौहार आते देख सभी श्रमिक ने हरियाणा में ही एक पिकअप को बुक करा कर बुधवार शाम को घर के लिए निकले थे। बृहस्पतिवार सुबह करीब तीन बजे बरेली के टोल टैक्स के पास साइड में पिकअप को खड़ी कर दी और कुछ श्रमिक उत्तर कर टॉयलेट के लिए चले तो अचानक एक कंटेनर  ने पीछे से टक्कर मार दी।

जिसमें पिकअप में सवार मटरू की मौके पर ही मौत हो गई। पिकअप और कंटेनर की भिंड़त देख आपपास मौजूद लोगों ने घायलों को बाहर निकाला और पुलिस को सूचना दी। जबकि चालक वाहन छोड़कर मौके से फरार हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मटरू के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मृतक के भाई बलराम को पीलीभीत के निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जबकि   अन्य घायलों की बरेली के निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहा डॉक्टर ने मामूली घायल श्रमिक की मरहम पट्टी कर छुट्टी दे दी। मामूली घायल श्रमिक घर पहुंचे और मृतक के घर जानकारी दी। तो कोहराम मच गया। सूचना पर मृतक के परिवार के लोग पहुंचे। मृतक अपने पीछे पत्नी और दो बच्चों का रो रोकर बुरा हाल है। शुक्रवार को मटरू का अंतिम संस्कार किया जायेगा।

Bansal Saree