newstodaynetwork Banner

रुद्रपुर: हाई-प्रोफाइल मामले में आरोपी का सरेंडर, पुलिस कर रही यह दावा

रुद्रपुर। होली के दिन फायरिंग प्रकरण में आरोपी बिल्डर के पुत्र ने शहर के नामचीन लोगों की मध्यस्थता के जरिए खुद को पुलिस के हवाले कर दिया। हालांकि पुलिस ने गिरफ्तारी का दावा किया है। मामले के हाई-प्रोफाइल होने का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि एक हफ्ते के अंदर पुलिस ने गैरजमानती
 | 

रुद्रपुर। होली के दिन फायरिंग प्रकरण में आरोपी बिल्डर के पुत्र ने शहर के नामचीन लोगों की मध्यस्थता के जरिए खुद को पुलिस के हवाले कर दिया। हालांकि पुलिस ने गिरफ्तारी का दावा किया है।

Devi Maa Dental

मामले के हाई-प्रोफाइल होने का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि एक हफ्ते के अंदर पुलिस ने गैरजमानती वारंट लेने के बाद कुर्की के लिए धारा 82 तक की कार्रवाई पूरी कर ली। यहां बता दें कि महानगर के बिल्डर जयचंद जैन के पुत्र दीपक जैन को किसी ने थप्पड़ जड़ दिया था, जिस पर उसने हवाई फायरिंग की थी, जिससे उनके यहां काम करने वाले मजदूर की बेटी की आंख में छर्रा लग गया था। मामला चूंकि बिल्डर के बेटे से जुड़ा था, इसलिए फुल रफ्तार से पुलिस एक्शन में जुटी। चर्चा है कि कुर्की नोटिस चस्पा होने से पहले ही कुछ नामचीन लोगों की मध्यस्थता के बीच दीपक ने खुद को पुलिस के हवाले कर दिया। सोशल मीडिया पर सुबह से ही यह बात फैल रही थी। दोपहर को पुलिस ने दीपक को गिरफ्तार करने का दावा कर दिया। हालांकि पुलिस की भूमिका संदेहास्पद है, जिसे लेकर तमाम चर्चाएं हैं।

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने अफवाहों को खारिज किया है। उन्होंने कहा कि फायरिंग दीपक जैन के पिता जयचंद के लाइसेंस की पिस्टल से नहीं हुई। दीपक जैन और उसके पिता का लाइसेंसी पिस्टल पहले से ही कोतवाली के मालखाने में जमा है। उन्होंने कहा कि इस मामले में न्याय संगत कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Bansal Saree