VIDEO: देवभूमि में पर्यटन को बढाने के लिए टिहरी झील के बीचों बीच बैठे ‘सरकार’, कही ये बड़ी बात

351
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई टिहरी: न्यूज टुडे नेटवर्क- देवभूमि में असीमित संभावनाओं के बीच पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से त्रिवेंद्र सरकार ने एक अनूठा प्रयास किया है। इसके तहत टिहरी झील पर मरीना बोट में सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत की अगुवाई में आज करीब पौने 11 बजे उत्तराखंड़ सरकार की कैबिनेट बैठक का आगाज हुआ। फ्लोटिंग मरीना (तैरते रेस्तरां) में आयोजित कैबिनेट में 13 जिलों में 13 नए पर्यटन क्षेत्रों पर मुहर लगाने की तैयारी है।

VIDEO- टिहरी झील में पर्यटन की संभावनाओं पर बोलते सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत

#TehriLakeCabinet #TehriLakeFestival Trivendra Singh Rawat Satpal Maharaj Incredible India

Posted by Uttarakhand Tourism on Tuesday, 15 May 2018

उत्तराखंड के इतिहास में यह पहला मौका होगा, जब टिहरी झील में तैरते रेस्तरां में कैबिनेट के सदस्य राज्य के विकास के मुददों पर चर्चा करेंगे। बता दें कि 25 से 27 मई तक टिहरी झील में राष्ट्रीय महोत्सव आयोजित किया जा रहा है। इसमें देश भर से पर्यटक और निवेशक आएंगे। ऐसे में कैबिनेट की बैठक होने से पर्यटन के लिए एक बेहतर माहौल बनने की भी उम्मीद जताई जा रही है।

टिहरी झील में कैबिनेट की बैठक करने के पीछे सरकार को मंतव्य देश-दुनिया के लोगों को पर्यटन के लिए यहाँ आने का संदेश देना है। वैसे तो टिहरी झील किसी परिचय की मोहताज नहीं है, लेकिन पर्यटन मानचित्र पर अभी इसे स्थान दिलाना बाकी है। इसके लिए खास प्रयास किए जा रहे हैं।

टिहरी झील में कुछ इस तरह मरीना बोट में सम्पन्न हुई त्रिवेन्द्र सरकार की कैबिनेट बैठक

13 जिलों में विकसित होंगे 13 नए पर्यटन स्थल

टिहरी झील में आयोजित होने वाली कैबिनेट बैठक में सरकार प्रदेश के 13 जिलों में 13 नए पर्यटक स्थल बनाने की महत्वाकांक्षी योजना को अब परवान चढ़ाने की तैयारी कर रही है। पर्यटन विभाग ने इसके लिए हर जिले में कुछ पर्यटन क्षेत्र चिह्नित किए हैं। इन्हें अब कैबिनेट के समक्ष लाया जाएगा। कैबिनेट में इन सभी नामों पर चर्चा के बाद 13 क्षेत्रों को मंजूरी दी जाएगी। इन क्षेत्रों में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए इनका प्रचार-प्रसार करने के साथ ही पर्यटन सुविधाओं को विकसित किया जाएगा।

यह भी पढें- VIDEO: खुशखबरी- उत्तराखंड़ में खुलेंगे रोजगार के द्वार, सरकार ने चुने 13 जिलों में “13 पर्यटक स्थल”