उत्तराखंड में जन्मी इस डीएम के मुरीद बने पीएम मोदी, महिलाओं के लिए बन गई है मिसाल

4837
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

[न्यूज टुडे नेटवर्क]. उत्तराखंड, देहरादून में जन्मी आइएएस आरती डोगरा परी महज साढ़े तीन फुट की हैं. देहरादून के ब्राइटलैंड स्कूल में पढ़ी आइएएस आरती डोगरा परी इन दिनों सोशल मीडिया में अपने कामों को लेकर खूब वायरल हो रही हैं. सोशल मीडिया में हर तरफ इनके बुलंद हौसलो की तारीफ हो रही है.

राजस्थान, अजमेर

राजस्थान कैडर की 2006 बैच की आइएएस आरती भले ही कद में साढ़े तीन फुट की हैं. लेकिन, अपने प्रशासनिक निर्णयों से राजस्थान ही नहीं, बल्कि देशभर में महिलाओं के लिए मिसाल बनी हैं. राजस्थान के बीकानेर, जोधपुर और बूंदी जिलों में कलक्टर रहते हुए आरती ने समाज हित में बड़े फैसले और अपने मॉडल पेश किए तो देश के प्रधानमंत्री भी उनके काम से खुश हो गए.

समाज में बदलाव को लेकर आरती ने कई मॉडल पीएम मोदी को दिखाए. जिससे पीएम मोदी काफी खुश हुए और उनके कार्यों की प्रशंसा भी की. खासकर खुले में शौच से मुक्ति के लिए शुरू हुए उनके स्वच्छता मॉडल ‘बंको बिकाणो’ पर पीएमओ ने उनकी खूब तारीफ की. आइएएस आरती डोगरा विजय कॉलोनी निवासी कर्नल राजेन्द्र डोगरा और मां कुमकुम की इकलौती बेटी हैं. उनकी मां दून के प्राइवेट स्कूल में प्रधानाध्यापिका रही हैं. आरती ने आइएएस बनकर यह साबित कर दिया कि लड़कियां लड़को से कम नहीं. अगर हौंसले बुलंद हो तो कोई भी काम छोटा नहीं होता.

किससे हुईं मोटिवेट

देहरादून में पढ़ाई करते समय आरती डोगरा की मुलाकात आइएएस और वर्तमान में प्रमुख सचिव मनीषा पंवार से हुई. मनीषा ने आरती का हुनर देखते हुए उसको मोटिवेट किया. आरती फुल मोटिवेट हो गईं और इसके बाद उन्होंने आइएएस बनकर ही दिखाया.

Uttarakhand, Haldwani- Avenger Infinity War Movie, Public Reaction