भीमताल के इस होटल में हुई विदेशी सैलानी की मौत, पुलिस ने की ये कार्रवाई

978
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

भीमताल- न्यूज टुडे नेटवर्क: शहर के ग्रीनवुड होटल में आज उस वक्त हंगामा मच गया जब होटल में बीते तीन महिने से रह रहे विदेशी सैलानी का शव उसी के कमरे से बरामद हुआ। तीन दिन से सैलानी द्वारा कमरा ना खोले जाने पर होटल स्टाफ ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने मास्टर चाबी से कमरे का दरवाजा खोला। वही सैलानी के शव को कब्जे में लेकर कार्यवाई करते हुए कमरे व होटल को फिलहाल पुलिस ने सीज़ कर दिया है। मामले में पुलिस कार्यवाही जारी हैं।

टूरिस्ट वीजे पर भारत आया था सैलानी

पुलिस जानकरी अनुसार विदेशी सैलानी स्टीफिन डेनियल (65) अमेरिका के निवासी थे। वह भारत टूरिस्ट वीजा पर आया हुए थे। जो कि 30 मई से भीमताल के होटल ग्रीनवुड में रह रहे थे। जानकारी मुताबिक स्टेफिन बीते कुछ समय से बीमार चल रहे थे। बीमारी के कारण चलने फिरने में भी उनको दिक्कत होती थी। जिस वजह से वह अपना खाना होटल स्टाफ से कमरे में ही मंगवाते थे।

घटना से तीन दिन पूर्व 6 अगस्त को होटल स्टाफ द्वारा खाने के लिए पूछने पर स्टीफन ने खाने को मना कर दिया। जिसके बाद लगातार तीन दिनों से होटल स्टाफ द्वारा कमरा नौक करने पर अंदर से कोई जवाब नहीं आए। जिससे स्टाफ को गड़बड़ी का अहसास हुआ और उनके द्वारा पुलिस को सूचित किया गया। बाद में पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंच कर मामले में पूरी कार्यवाई की।

अपना काम खुद करते थे स्टेफिन

जानकारी मुताबिक स्टेफिन अपने कमरे की सफाई व अन्य काम खुद करते थे। मौत से तीन दिन पहले उन्होंने खुद को कमरे में बंद कर लिया था। जिसके बाद कमरा खुलने पर उनकी मौत की जानकारी प्राप्त हुई। मामले में भीमताल कोतवाल प्रमोद पाठक ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। रिपोर्ट आने तक होटल व कमरे को पुलिस ने सीज़ कर दिया हैं। मौत की वजह रिपोर्ट आने पर ही पता लग पाएगी। फिलहाल पुसिस ने स्टीफिन डेनियल की मौत की सूचना अमेरिकी एम्बेसी को दे दी है। इधर होटल स्वामी से मामले पर पूछताछ करने पर उन्होंने पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कह पाने की बात कहीं है।

होटल स्टाफ की लापरवाही के चलते हुआ सीज़

पुलिस जानकारी अनुसार स्टीफिन तीन दिन तक कमरे में बंद रहे। उनका शव करीब दो दिन पुराना प्रतीत हो रहा है। ऐसे में होटल स्टाफ द्वारा समय से मामले की जानकारी पुलिस को नहीं दी गई। वहीं तीन दिन तक कमरे के अदंर का हाल जानने का साहस भी स्टाफ ने नहीं किया। इस पर होटल की लापरवाही देखते हुए मौत की वजह साफ होने तक पुलिस ने होटल सीज़ कर दिया है।