यूपी- जन्म लेते ही नवजात बच्ची को हुई जेल, वजह बस इतनी सी थी….

84
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

बिजनौर- न्यूज टुडे नेटवर्क उत्तर प्रदेश के बिजनौर में अपने पति की हत्या की सजा काट रही महिला ने जिला कारागार के अंदर बेटी को जन्म दिया है। बेटी की जन्म के बाद महिला और नवजात बेटी को महिला जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बता दें कि नवजात बच्ची को भी अपनी मां के कई साथ तक सलाखों के पीछे जिंदगी काटनी होगी। बिजनौर के नजीबाबाद थाना क्षेत्र के नया गांव की रहने वाली हेमलता को उसके पति की हत्या के आरोप में पुलिस ने 9 महीने पहले गिरफ्तार किया था। हेमलता उस समय 9 माह के गर्भ से थी। बता दें कि गुरुवार को हेमलता ने जेल के अंदर एक बेटी को जन्म दिया है। बच्ची के जन्म लेन के बाद महिला कैदी की हालत बिगडऩे लगी जिस पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां मां और बच्ची दोंनो का इलाज कराया जा रहा है।

woman

सवाल? कातिल मां के गुनाहों की सजा मासूम को क्यों

लडक़ी के जन्म के बाद सबसे महत्वपूर्ण पहलू यह है कि, जिस बच्ची ने दुनिया मे आते ही अपनी आंखे जेल में खोली है उसको सजा क्यों? सवाल यह भी कि, क्या एक कातिल मां के गुनाहों की सजा इस मासूम को भी भुगतनी होगी? क्या यह बच्ची चलना, बोलना और खाना सब जेल में ही सीखेगी? कैदी मां की मानें तो वह भी यही चाहती है कि, उसके गुनाहों की सजा उसकी बच्ची को न मिले।