यूपी के देवरिया में सामने आया ‘मुज़फ्फरपुर कांड’, पुलिस के सामने पीड़ित लड़की ने खोली ‘सेल्टर होम’ की काली करतूत

122
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

देवरिया- न्यूज टुडे नेटवर्क: इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना ने एक बार फिर देश के सबसे बड़े सूबे की कलही खोल कर रख दी है। उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में बिहार के मुजफ्फरपुर जिले जैसा कांड सामने आया है, जहां एक बालिका गृह मां विध्यवासिनी में बच्चियों के शारीरिक, मानसिक और यौन शोषण का मामला सामने आया है। पुलिस ने इस मामले में बालिका गृह के संचालक पति-पत्नी सहित तीन को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्त में आए सेल्टर होम के संचालक पति- पत्नी

उधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देवरिया जिले में शर्मसार करने वाले वाकये के सामने आने के बाद जिले के डीएम सुजीत कुमार को सस्पेंड करने का आदेश दे दिया है। इस बात की जानकारी उत्तर प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री रीता बहुगुणा ने दी। उन्होंने कहा कि जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी। मुख्यमंत्री ने 2 सदस्यीय कमेटी का गठन किया है जो वहां जाकर मामले की जांच करेगी और अपनी रिपोर्ट सरकार को देगी।

कारों में आते दरिंदे, रात भर रोती थी बेटियाँ

पुलिस अधीक्षक रोहन पी. कनय ने बताया कि स्टेशन रोड स्थित मां विंध्यवासिनी महिला प्रशिक्षण एवं समाज सेवा संस्थान द्वारा संचालित आश्रयगृह से कल शाम 24 लड़कियों को मुक्त कराया गया है। इसमें कुल 42 लोग रहते थे। 18 लड़कियां अभी भी लापता हैं। पूरी घटना की जानकारी उस वक्त मिली जब आश्रयगृह में रहने वाली एक लड़की महिला थाने पहुंची और लड़कियों की दयनीय हालत के बारे में जानकारी दी।

दवरिया सेल्टर होम की दरिंदगी को जाहिर करती मासूम बच्चियाँ

लड़की ने बताया कि कई बार सफेद,काले और लाल रंग की कारें आती हैं और लड़कियों को ले जाती हैं। जब लड़किया सुबह लौटती हैं तो वे रोती हैं। देवरिया के पुलिस अधीक्षक ने बताया कि उन्हें पुलिस मुख्यालय से दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश मिले थे। इस बीच, प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) आनंद कुमार ने कहा कि इस पूरे प्रकरण की गहराई से जांच की जाएगी।