योगा के हैं अनेक फायदे, लेकिन क्या इन नुकसानों के बारे में जानते हैं आप

134
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क : हम हमेशा से सुनते आ रहे है की योग का अभ्यास करने से शरीर को फायदा मिलता है। इसका नियमित अभ्यास शरीर के लिए स्वास्थ्यकर माना गया है। पर क्या आप जानते है की योग करने से शरीर को नुकसान भी पहुँचता है। इसे करने से ना केवल शारारिक बल्कि मानसिक साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। योग निरोग तो रखता है लेकिन इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि योग गलत तरीके से करने से गंभीर चोटें, क्रोनिक दर्द, मांसपेशियों पर अत्यधिक दबाव और मांसपेशियों में सूजन आ सकती है। ऐेसे में किसी भी योग आसन का अभ्यास करते समय हमेशा योगा पोस्चर पर खास ध्यान दिया जाता है। आज हम आपको बताएंगे योगा के गलत पोज करने से आपको क्या-क्या जोखिम उठाने पड़ सकते हैं।

kali me dard

यह भी पढ़ें-अगर माइग्रेन की प्रॉब्लम है तो यह योगासन आपके लिए बेस्ट है, वीडियो देखें…

यह भी पढ़ें-कमर दर्द ,पीठ दर्द की समस्या से हैं परेशान तो यह रहा समाधान, मिल जाएगा दर्द से छुटकारा

कलाई पर असर

यदि गलत ढंग से योगा किया जाए तो इसका सबसे ज्यादा असर आपकी कलाई पर पड़ता है। कलाई जख्मी होने की आशंका बढ़ जाती है।

मांसपेशियों पर प्रभाव

वजन कम करने के दौरान किए जाने योगाभ्यास में मांसपेशियों पर अत्यधिक तनाव होता है और इस प्रकार कंधे की गतिशीलता भी प्रभावित हो सकती है।

back-ache

कमरदर्द और स्लिप डिस्क

योगाभ्यास जैसे भरद्वाजासन, बितिलासन योग, मार्जरी आसन और बहुत से योग पीठ दर्द और पीठ की समस्याओं को कम करने में मदद करते हैं। अगर गलत तरीके से इन्हें किया जाता है, तो इसका उल्टा प्रभाव हो सकता है। कई बार इसकी वजह से कमरदर्द यहां तक की स्लिप डिस्क की समस्या बढ़ सकती है।

एड़ी में मोच

अर्धचक्रासन, मालासन योग और सुप्त वज्रासन से एड़़ी पर बहुत दबाव पड़ता है। यदि ये गलत तरीके से किए जाते हैं, एड़ी में मोच आ सकती है या ये गंभीर रूप से जख्मी हो सकती है।

yog2

गर्दन में अकडऩ,मोच और दर्द

सेतुबंधासन, मत्स्यासन, राजाकपोतासन और कपोतासन जैसे योग आसन को करने में गर्दन का इस्तेमाल अधिक होता है। यदि आसन गलत तरीके से करें तो गर्दन में अकडऩ और मोच आ सकती है या गर्दन में दर्द बैठ सकता है।

Back pains
Woman with back pain isolated on white background

मांसपेशियों में खिंचाव

अधिकांश योगों में मांसपेशियों में खिंचाव आना आम बात है। ये समस्या उस समय और अधिक बढ़ जाती है जब आपके शरीर में लचीलापन कम है या पर्याप्त मजबूत नहीं है। योगाभ्यास के दौरान चोटों से बचने के लिए, शरीर को लचीला बनाने के लिए, योग के जरिए ऊर्जा पाने के लिए, अपनी सक्रियता बढ़ाने के लिए योग चिकित्सक द्वारा बताएं गए नियमों का पालन करें। यदि योग के दौरान शरीर में बहुत ज्यादा दर्द या तनाव महसूस हो तो योगाभ्यास तुरंत बंद कर दें।