जानिए शिल्पा शेट्टी ने उत्तराखंड के ‘वाल्मिकी समाज’ से आखिर क्यूं मांगी माफी, देखें Video

165
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी:टाइगर जिंदा है‘ मूवी रिलीज होते ही वाल्मिकी समाज वालो ने प्रेम सिनेमा हॉल में तोड़-फोड़ कर दी और चलती फिल्म के दौरान पर्दे भी फाड़ डाले. इसके साथ ही वाल्मिकी समाज वालो ने सिटी मजिस्ट्रेट पंकज उपाध्याय के माध्यम से सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी को ज्ञापन भी भेजा था.

यहां देखें प्रेम सिनेमा में वाल्मिकी समाज के लोग हल्ला करते हुए –

जिसके चलते शिल्पा शेट्टी ने 23 दिसंबर को ट्विटर पर माफी मांगी, बता दें कि शिल्पा और सलमान के खिलाफ जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल करने के मामले में शनिवार को एफआईआर दर्ज की गई थी.

शिल्पा ने ये ट्वीट किया- मेरे पुराने इंटरव्यू के शब्दों को गलत ढ़ंग से पेश किया गया. वो शब्द किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाने के मकसद से नहीं बोले गए थे.

Shilpa Shetty

एक दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा- अगर किसी की भावनाओं को ठेस पहुंची है तो मैं माफी मांगती हूं.

विवादित टिप्पणी की वजह से रिपब्लिकन कार्यकर्ता सलमान की फिल्म टाइगर जिंदा है का विरोध भी जोरो-शोरो से कर रहे हैं. उत्तराखंड के अलावा राजस्थान, यूपी और गुजरात में भी फिल्म के विरोध की खबरें सामने आ चुकी हैं. हल्द्वानी के प्रेम सिनेमा हॉल के साथ-साथ जयपुर के राज सिनेमाहॉल में फिल्म के शो के दौरान तोड़फोड़ की भी घटना सामने आई.

सलमान का विरोध कथित तौर पर 5 साल पुराने एक वायरल वीडियो की वजह से हो रहा है. सलमान खान एक जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल कर रहे हैं. इस शब्द पर वाल्मीकि समाज ने कड़ी आपत्ति की है.

इस बारे में वाल्मीकि समाज का कहना है कि पब्लिकली गलत शब्द का इस्तेमाल करने से हमारे समाज की भावनाओं को ठेस पहुंची है. बता दें कि सलमान ने पांच साल पहले अपनी फिल्म ‘एक था टाइगर‘ के प्रमोशन के दौरान नेशनल टीवी पर अपने डांस स्टाइल को बताने के लिए जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल किया था.

Shilpa

जबकि शिल्पा ने मीडिया से बातचीत के दौरान बयान दिया था कि वे घर में ‘इस तरह‘ से रहती हैं.