आज है सावन का दूसरा सोमवार, जानें क्या है इस दिन का खास महत्व और पूजन का विधि

47
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हरिद्वार- न्यूज टुडे नेटवर्क: आस्था के महापर्व सावन के महीने में भगवान शिव के मंदिरों में भोले के दर्शनों के लिए भक्तों का उत्साह देखते ही बनता है। आज सावन के दूसरे सोमवार को देशभर के शिव मंदिरों और शिवालयों में श्रद्धालुओं का तांता सुबह से ही उमड़ रहा है। देशभर में जगह-जगह कावड़ यात्रा देखने को मिल रही है। मंदिरों में बम- बम बोले की जयकारों के साथ शिवलिंग पर बेलपत्र, दूध व जल चढ़ाते को भक्त लंबी कतारों में लगे हुए हैं।

आज सावन के दूसरे सोमवार से जुड़ी क्या है धार्मिक मान्यता और किस तरह से शिवभक्त , अपने आराध्य शिवशंकर को प्रसन्न कर सकते हैं ,आइये जानते हैं-

सावन के दूसरे सोमवार को कैसे करें भोलेनाथ को प्रसन्न

पं. रमाशंकर उप्रेती के अनुसार इस बार सावन के दूसरे सोमवार को सर्वार्थ सिद्धि योग बना है, इसके साथ ही वृद्धि योग और कृतिका नक्षत्र का संयोग बना है। जब सोमवार में इस तरह का योग बनता है तब इस मुहूर्त में शुक्र अस्त, पंचक, भद्रा आदि पर विचार करने की जरूरत नहीं होती है। सच्चे मन से पूजा करने पर भगवान का आशीर्वाद मिलता है। इतना ही नहीं सावन का दूसरा सोमवार शिवभक्तों को बेहतर स्वास्थ्य और बल प्रदान करने वाला माना गया है।

सावन के इस सोमवार में शिव को भांग, धतूरा और शहद अर्पित करना उत्तम फलदायी रहेगा। कालसर्प योग की शांति के लिए भी दूसरा सोमवार बेहद शुभ है। शिव का रुद्राभिषेक से विशेष लाभ और शिव की कृपा प्राप्त होती है और कालसर्प योग भी दूर होता है।