ट्रैवलिंग के दौरान आजमाएं ये टिप्स, बचेंगे पैसे और टूर बनेगा यादगार

65
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क: दुनिया में बहुत कम ऐसे लोग होंगे जिन्हें घूमने -फिरने का शौक ना हो। चार दिन की इस जिंदगी में अगर अपने आसपास की खूबसूरत दुनिया से रूबरू ना हुए, तो फिर क्या किया। क्या पहाड़ क्या मैदान , हर जगह कुदरत की बेपनाह खूबसूरती बिखरी पड़ी है। बात अगर अपने देश की करें तो यहाँ भी घूमने वाले मतवालों की कोई कमी नही है। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक सैलानियों का हुजूम उमड़ पड़ता है। ऐसे में ट्रेवलिंग के दौरान कई बार दिक्कतों का सामना भी करना पड़ता है। वहीं कई बार बेहतहाशा खर्च भी पसीने छुड़ा देता है।

ऐसे में आप हम आपको ट्रेवलिंग के दौरान जेब को नियंत्रित करते हुए ढेर सारी मस्ती करने के कुछ उपायों से रूबरू करवा रहे हैं। उम्मीद यही है कि आपका सुहाना सफर यादगार बने और आपकी जेब भी ज्यादा ढीली ना हो।

कैसे बनाए टूर को यादगार

अगर आप ट्रैवलिंग के दौरान अपनी जेब को ढीली होने से बचाना चाहते हैं तो नेट पर होम स्टे से जुड़ी साइट्स को एक बार जरूर सर्च करें। इससे आप दुनिया के किसी भी कोने में रहने के लिए आसानी से घर ढूंढ़ सकते हैं। पैसे बचाने के साथ ही वहां के लोकल कल्चर को इंजॉय करने का यह अच्छा तरीका है। इसके अलावा होमस्टे में रुककर भी आप अच्छी खासी सेविंग भी कर सकते हैं।

ट्रैवलिंग के दौरान खाने-पीने का कैसे रखें ख्याल

ट्रैवलिंग के दौरान खाने-पीने के लिए भी अलग से बजट बनाना पड़ता है जो बेशक जेब ढीली करती है। तो अगर आप ऑनलाइन होटल की बुकिंग करा रहे हैं तो अच्छे से पता कर लें कि उसमें ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर शामिल है या नहीं। वैसे स्ट्रीट फूड्स खाकर भी आप अपना बजट मैनेज कर सकते हैं।

क्या है सोलो ट्रैवलिंग

व्यस्त जीवनशैली के चलते लोगों में सोलो ट्रैवलिंग का क्रेज बढने लगा है। ऐसे में सुरक्षा के लिहाज से कई बार बजट से समझौता करना पड़ जाता है तो इसका एक आसान उपाय यह है कि कुछ एक ट्रैवल साइट्स आपको ट्रैवलर्स के साथ कनेक्ट होने का मौका देती हैं। जिसमें क्या पता आपको उसी जगह जाने के लिए कोई कंपनी मिल जाए। और अगर बॉन्डिंग अच्छी बन गई तो यह शेयरिंग के लिहाज से भी अच्छा होगा।

बस और ट्रेन में सफर करना है फायदेमंद

अगर आपके पास छुट्टियाँ बिताने का पर्याप्त समय है तो फ्लाइट और बस के बजाय ट्रेन से ट्रैवल करने को प्राथमिकता दें। ट्रेन का यह सफर आपकी जेब को भी राहत देगा। अगर कहीं काम के सिलसिले में किसी एक जगह बहुत बार ट्रैवल करना पड़ता है तो ऐसे में पास बनवा लेना बेहतर रहेगा।

एक और बात वो ये कि जितना हो सके रात के वक्त ट्रैवल करें। इससे आप फ्लाइट, ट्रेन या बस में सोकर होटल का खर्चा बचा सकते हैं और दिन में जिस जगह जा रहे हैं उस जगह का भी आराम से लुफ्त उठा सकते हैं।