रानीखेत- ढाई दिन में बनी गांधी कुटिया का जयंती के दिन हुआ ये हाल, देखकर दंग रह जाएंगे आप

90
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

रानीखेत- न्यूज टुडे नेटवर्क: महात्मा गांधी की जयंती पर ताड़ीखेत में शर्मनाक घटना सामने आई है। आज जब पूरा देश गांधी जयंती मना रहा था इसी बीच अराजक तत्वों ने गांधी कुटिया में तोड़फोड़ कर डाली। दरवाजे तोड़ दिए और बिजली की फिटिंग उखाड़ दी। इतना ही नहीं कुटिया के अंदर गंदगी भी फैलाई। इस घटना के बाद लोगो में काफी गुस्सा है। वही कांग्रेस ने राजस्व पुलिस में मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

ढाई दिन में तैयार की थी कुटिया

उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष जगदीश बुधानी ने ताड़ीखेत स्थित गांधी कुटिया में अज्ञात लोगों द्वारा तोड़फोड़ करने की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है। उन्होंने अराजक तत्वों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा कि अहिंसा के पुजारी गांधीजी की कुटिया में इस तरह की घटना गंभीर अपराध की श्रेणी में है। गौरतलब है कि स्वतंत्रता आंदोलन के दौर में रानीखेत क्षेत्र में भी आजादी का संघर्ष जोरों पर था।

महात्मा गांधी आजादी के रणबांकुरों में जोश भरने 1929 में तीन दिन के प्रवास पर ताड़ीखेत आए थे। गांधी के आगमन से उत्साहित क्षेत्रवासियों ने ताड़ीखेत में उनके ठहरने के लिए मात्र ढाई दिन में यह कुटिया बना डाली थी। 17 से 19 जून तक ताड़ीखेत में प्रवास के दौरान गांधी जी ने आंदोलनकारियों में जोश भर ऊर्जा का संचार किया था।