नई दिल्ली: अंडर 19 वर्ल्ड कप दिलाने वाले क्रिकेट गुरू राहुल द्रविड़ को सबसे पहले किसने कहा था ‘द वॉल’, कुछ ऐसी है दिलचस्प कहानी

42
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली- कहते हैं एक अच्छा गुरू ही बेहतर शिष्य पैदा करने की ताकत रखता है। फिर चाहे क्रिकेट का मैदान ही क्यों ना हो। अंडर-19 क्रिकेट टीम के युवा जांबाजों को वर्ल्ड चैम्पियन बनाने के बाद कोच राहुल द्रविड़ ने एक बार फिर साबित कर दिया कि उन्हें क्रिकेट की दुनिया में ‘द वॉल’ क्यों कहा जाता है। लेकिन यह बात बहुत कम लोगों का पता होगी कि आखिर क्रिकेट के इस धुरंधर खिलाड़ी को आखिर द वॉल का खिताब दिया किसने ? तो चलिए आज हम आपकी इस कश्मकश को दूर किये देते हैं ।

Rahul Dravid
Rahul Dravid

तो यह है ‘द वॉल’ की दिलचस्प कहानी

दरअसल राहुल द्रविड़ को द वॉल की उपाधि से नवाजने की कहानी 1996-97 के दौरान की है। टीम इंडिया के साथ रिबॉक का एड सूट करने वाले नीमा नामचू और नितिन बेरी ने राहुल द्रविड़ को ‘द वॉल’ नाम दिया था। दरअसल ऐड में सभी खिलाड़ियों को एक उपनाम देना था। जिसमें पंच हो और उस खिलाड़ी की प्लेइंग स्टाइल से मैच करता हो। इसी के चलते राहुल द्रविड़ को ‘द वॉल’ नाम दिया गया।

उसी एड में अजहर को The Assassin और कुंबले को The Viper नाम दिया गया था। वक्त बीतने के साथ क्रिकेट फैन अजहर और कुंबले का उपनाम तो भूल से गये लेकिन राहुल ने पिच पर लंबी पारी और देर तक टिकने के कारण ‘द वॉल’ को अमर कर दिया। राहुल द्रविड़ के नाम से चिन्नास्वामी स्टेडियम के बाहर एक दीवार है जिस पर 3 शब्द कमिटमेंट, क्लास और कंसिसटेंसी लिखे हैं। ये तीनों शब्द राहुल द्रविड़ की पर्सनैलिटी को बखूबी दर्शाते हैं। एक और राज की बात हम आपको बताते हैं कि क्रिकेट की दुनिया में धमाल मचाने से पहले राहुल हॉकी के खिलाड़ी थे।

Rahul Dravid
Rahul Dravid

‘द वॉल’ नाम से जब छपने लगी न्यूजपेपर की हेडलाइन

क्रिकेट एक्सपर्ट विक्रम साठे ने एक इंटरव्यू में कहा था कि राहुल द्रविड़ को द वॉल नाम दिए जाने के बाद अखबारों में इसी नाम से हेडलाइन्स बनने लगी। राहुल के अच्छे प्रदर्शन के बाद The Wall Stands Tall और खराब प्रदर्शन के बाद The Wall Collapses in Defeat जैसी हेडलाइन्स भी छपने लगी।

तो ऐसे पड़ा राहुल द्रविड़ का निक नेम ‘जैमी’

राहुल द्रविड़ ने 4 मई 2003 में नागपुर की रहने वाली पेशे से सर्जन विजेता पेंडरकर से शादी की। राहुल के दो बेटे हैं। बड़े बेटे का नाम समित और छोटे बेटे का नाम अन्वय है। राहुल के जन्म के बाद उनका परिवार इंदौर से बेंगलुरु शिफ्ट हो गया था। इस स्टार क्रिकेटर के पिता बच्चों के लिए जैम बनाने वाली फैक्ट्री में काम करते थे, जिसकी वजह से बचपन में राहुल का नाम जैमी पड़ गया।