देहरादून- योग दिवस पर ‘इलनेस’ से ‘वेलनेस’ तक…’टोक्यो से संघाई तक’… पीएम मोदी ने कही ये 10 बड़ी बातें

118
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

देहरादून- न्यूज टुडे नेटवर्क: चौथे अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के एफआरआई मैदान में 55 हजार लोगों के साथ योग किया। युवाओं के साथ ही बुजुर्गों ने भी योग कार्यक्रम में बढचढ कर शिरकत की। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तराखंड पिछले कई दशकों से योग का केंद्र रहा है। हम भारतीयों के लिए गौरव की बात है कि पूरी दुनिया में योग का पर्व मनाया जा रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि योग व्यक्ति-परिवार-समाज-देश-विश्व और सम्पूर्ण मानवता को जोड़ता है।

pm modi in uttarakhand 4th international yoga day
चौथे अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर हजारों योगसाधकों को सम्बोधित करते पीएम नरेन्द्र मोदी

योग दिवस के कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कही ये 10 बड़ी बातें

पीएम मोदी ने कहा कि आज विश्व का हर देश, हर नागरिक योग को अपना मानने लगा है। हम हिंदुस्तानियों के लिए बड़ा संदेश है कि हम इस परंपरा के धनी है। अगर हम अपनी विरासत पर गर्व करना शुरू कर दें तो दुनिया गर्व करने में पीछे नहीं रहेगी।

पीएम मोदी ने कहा कि योग व्यक्ति-परिवार-समाज-देश-विश्व और सम्पूर्ण मानवता को जोड़ता है। योग आज दुनिया की सबसे पावरफूल यूनिफाइंग फोर्सेस में से एक बन गया है।

उन्होंने कहा कि योग दिवस पर हम सभी का एक जगह इकट्ठा होना यह दर्शाता है कि हम कैसे इस देश में रहते हैं। यहां का मौसम योग और आयुर्वेद के लिए प्रेरित करते हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि यह हम सभी के लिए गौरव की बात है कि आज दुनिया के हर भूभाग में लोग सूर्य का स्वागत कर रहे हैं। आज चारों ओर योग ही योग है।पीएम मोदी ने कहा कि देहरादून से लेकर डबलिन तक, शंघाई से लेकर शिकागो तक, जकार्ता से लेकर जोहानिसबर्ग तक, योग ही योग है। पीएम मोदी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र में योगा के प्रस्ताव को एक मत के साथ सभी देशों ने बहुमत से इसे पास किया था।

पीएम मोदी ने कहा कि हम सभी के लिए गौरव की बात है कि आज जहां-जहां उगते सूर्य के साथ सूरज की किरण पहुंच रही है, प्रकाश का विस्तार हो रहा है, वहाँ-वहाँ लोग योग से सूर्य का स्वागत कर रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि योग सुंदर है क्योंकि यह जितना प्राचीन है उतना ही आधुनिक है। इसका निरंतर विकास हो रहा है. योग का अतीत बेहतर है और इसके पास हमारे भविष्य के लिए आशा की किरण है। योग में हमारे पास समस्याओं का सही समाधान होता है।

पीएम मोदी ने कहा कि योग से जीवन में शांति, संरचनात्मकता और कंटेट का प्रसार होता है। योग बांटने अथवा तोडऩे की जगह जोड़ने का काम करता है। इसके अलावा कोटा में बाबा रामदेव वर्ल्ड रिकॉर्ड की तैयारी में हैं। यहां एक साथ 2 लाख लोग योग कर रहे हैं। इस मौके पर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी मौजूद हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि योग ने दुनिया को ‘इलनेस’ से ‘वेलनेस’ का रास्ता दिखाया है। आज के बदलते समय मे योगा इंसान के शरीर, दिमाग और आत्मा को बांधकर रखता है, जिससे शांति का एहसास होता है। उन्होंने कहा कि योग ने भारत को विश्व को और अधिक निकट ला दिया। योग ने दुनिया में भारत को एक अलग स्थान दिया है।

योग दिवस से एक दिन पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि योगासन भारतीय ऋषियों द्वारा मानवजाति को दिये गये सबसे अनमोल उपहारों में से एक है. मोदी के हवाले से बयान में कहा गया , ‘योग सिर्फ शरीर को फिट रखने वाला अभ्यास नहीं बल्कि अच्छे स्वास्थ्य का पासपोर्ट है , फिटनेस और तंदरुस्ती की कुंजी है।

पीएम मोदी ने कहा कि योग केवल वह अभ्यास नहीं जो आप सुबह करते हैं, पूरी समझदारी और जागरूकता के साथ अपने दिनभर के क्रियाकलाप करना भी योग का ही रूप है।

अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर एफआरआई में आयोजित कार्यक्रम के उपरान्त पीएम मोदी के विदाई देते राज्यपाल के.के.पाल और सीएम त्रिवेन्द्र और अन्य
अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर एफआरआई में आयोजित कार्यक्रम के उपरान्त प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को  राज्यपाल डाॅ.कृष्ण कान्त पाल एवं मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने जाॅलीग्राण्ट हवाई अड्डे पर विदाई दी। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द अग्रवाल, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह एवं डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी भी उपस्थित थे।