अब उत्तराखंड के खिलाड़ी करेंगे अपने राज्य का नाम रोशन, BCCI ने दी एसोसिएशन को मान्यता

797
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

[न्यूज टुडे नेटवर्क]. 18 साल के लंबे इंतजार के बाद अब उत्तराखंड के क्रिकेट प्लेयर दूसरे राज्यों में जाकर क्रिकेट नहीं खेलेंगे. सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित BCCI(भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) के प्रबंधन को गठित समिति ने प्रदेश के खिलाड़ियों को वर्ष 2018-19 के घरेलू सीजन में खेलने के लिए मान्यता प्रदान कर दी है.

और हां, यह मान्यता किसी एक एसोसिएशन को न देकर इसके लिए सभी एसोसिएशनों की सहमति से एक नौ सदस्यीय कंसेंसस कमेटी का गठन किया गया है. इसमें मान्यता का दावा करने वाली प्रदेश की चारों क्रिकेट एसोसिएशन के 6 सदस्यों के अलावा बीसीसीआइ के 2 सदस्य व 1 सदस्य राज्य सरकार का होगा. BCCI का नामित प्रतिनिधि ही इसका संयोजक होगा. ये ही कमेटी राज्य में क्रिकेट गतिविधियों का संचालन करेगी.

उत्तराखंड के क्रिकेट एसोसिएशन की मान्यता का मसला काफी वर्षों से लंबित चल रहा था. राज्य सरकार के प्रयास के बाद अब उत्तराखंड को बीसीसीआइ से मान्यता मिल पाई है. सोमवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान प्रदेश के खेल मंत्री अरविंद पांडेय ने बताया कि सरकार व खेल विभाग के प्रयास से अब प्रदेश के प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को घरेलू क्रिकेट में खेलने का मौका मिलेगा. बीसीसीआइ ने खिलाड़ियों के हित को देखते हुए उत्तराखंड की टीम को घरेलू सीजन में खेलने के लिए अनुमति प्रदान कर दी है. मान्यता का दावा करने वाली चारों एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बीसीसीआई के सामने इसकी सहमति प्रदान कर दी है. उन्होंने उम्मीद जताई कि जल्द ही उत्तराखंड को रणजी मैच मिलने की भी संभावना है.

समिति में ये सदस्य होंगे

BCCI के 2 सदस्य. इनमें से 1 वित्तीय पृष्ठभूमि और 1 क्रिकेट प्रबंधन से जुड़ा होगा.

1 सदस्य प्रदेश सरकार द्वारा नामित.

उत्तरांचल क्रिकेट एसोसिएशन से 2 सदस्य.

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के 2 सदस्य.

यूनाइटेड क्रिकेट एसोसिएशन का 1 सदस्य.

उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन का एक सदस्य (सभी एसोसिएशन अपने सदस्यों के नाम स्वयं तय करेंगी.

उत्तराखंड को BCCI की मान्यता मिलने पर हल्द्वानी में कटा 10 किलो का केक.

वहीं उत्तराखंड को मान्यता मिलने पर हल्द्वानी के क्रिकेट प्रेमियों और खिलाड़ियों में खुशियों की लहर जाग गई. क्रिकेट एसोसिएशन से जुड़े लोगों में खुशी का माहौल है.

हल्द्वानी में हिमालयन क्रिकेट एकेडमी में 10 किलो का केक काटा गया. एकेडमी के निर्देशक गिरीश मेलकानी ने सुप्रीम कोर्ट, विनोद राय, खेल मंत्री अरविंद पांडे व सभी एसोसिएशन पदाधिकारियों का आभार जताया.