ये क्या ! इतनी ठंड में लड़के-लड़कियां मेट्रो में अधनंगे घूम रहे हैं…

59
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

अमेरिका और यूरोप में बर्फभारी हो रही है. भयानक ठंड पड़ रही है. न्यू यॉर्क, वॉशिंगटन डीसी जैसे इलाकों में इतनी ठंड हो रही है कि समझो बर्फ कहां है और शहर कहां. ऐसे जहरीले ठंडे मौसम में भी लोग नंगी टांगों के साथ शहर में घूम रहे हैं. अधनंगे मेट्रो में आ-जा रहे हैं. क्या जवान, क्या अधेड़ और क्या बूढ़े, आदमी-औरत, कोई नहीं छूटा. और तो और, इजरायल जैसी शर्मीली जगह में भी ये ही हाल है. स्वीडन से लेकर इंग्लैंड तक, सब जगह खूब सारे लोगों ने ये बहादुरी दिखाई. तो सवाल उठता है कि लोग पागल हो गए हैं, या हवा में भांग घुल गई है?

न्यू यॉर्क में तापमान शून्य से 10 डिग्री तक कम है. उत्तरी अमेरिका के इलाकों का तो सर्दी और बर्फबारी से बुरा हाल है. इसके बावजूद लोग रस्म निभाना नहीं भूले.

सालाना त्योहार है, साल के एक दिन कोई पैंट नहीं पहनता

मॉन्ट्रेल में रविवार को तापमान था माइनस 27 डिग्री. मगर शरीर के निचले हिस्से को खुला छोड़ने वाले तमाम लोगों पर इसका कोई असर नहीं था.

ये एक सालाना त्योहार की रस्म है. नाम है- नो पैंट्स सबवे राइड. देसी भाषा में कहें, तो बिना पतलून पहने बाहर निकलिए और मेट्रो-बस-रेल में बैठ जाइए. ठंड का लुत्फ उठाइए. अधनंगे होकर दफ्तर जाइए. कॉलेज जाइए. या मन करे, तो बाजार जाइए. यूं ही टहलिए. ये जो कैंपेन है, वो तब शुरू हुआ जब ये सदी आई.

सभी उम्र के लोग इस रस्म को फॉलो करते हैं

यानी, 18 साल पहले. तय हुआ कि जनवरी के पहले रविवार को लोग-बाग बिना पतलून पहने बाहर निकलेंगे. इस बार ये हुआ 7 जनवरी को. बस मजे के लिए. ताकि थोड़ी बोरियत कम हो जाए.

उधर के देशों में ये अच्छा है. आप क्या खाते हैं, क्या पहनते हैं, आपके कपड़े कितने छोटे हैं, इसको लेकर कोई और सिर दर्द नहीं पालता.

उधर ठंड के मौसम को उदासी का मौसम माना जाता है. हम यहां कई कहावतें नकल-नकल में बोल लेते हैं. मगर उनका मतलब हमारे लिए फिट नहीं होता. जैसे किसी रुखे इंसान को कहना- यू आर सो कोल्ड. या फिर किसी खूबसूरत दिन की तारीफ में कहना- वॉट अ ब्यूटीफुल सनसाइन.

तो इसी बोरियत भरी सर्दी को थोड़ा मजेदार करने के लिए होता है ये सालाना त्योहार. सोशल मीडिया, खासकर ट्विटर इन तस्वीरों से अटा पड़ा है. थोड़ी तस्वीरें हम छांट लाए हैं आपके लिए. ताकि आप भी फील लें इस ‘नो पैंट्स सबवे राइड’ का.