नई दिल्ली- 1 सितंबर से देश में होने जा रहे हैं ये 5 बड़े बदलाव, हर आमोखास की बदलेगी जिंदगी

508
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क: 1 सितंबर यानी आज से देश की व्यवस्थाओं में 5 बड़े बदलाव होने जा रहा है। यकीनन इन बदलावों का असर हर आमोखास की जिंदगी पर पड़ेगा। इनमें से कुछ बदलाव जेब पर भारी पड़ेंगे तो कुछ आपको फायदा भी पहुचाएंगे। 1 सितम्बर 2018 से मोटर इश्योरेंस में बदलाव, तंबाकू उत्पादों पर चेतावनी, आईटीआर फाइलिंग पर पेनाल्टी, रेलवे में मुफ्त मिलने वाला इश्योरेंस खत्म और इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की शुरूवात होने जा रही है।

मोटर इश्योरेंस

आप यदि 1 सितंबर या इसके बाद नई कार या दुपहिया वाहन खरीदेंगे तो आपकी कार या बाइक पर थर्ड पार्टी मोटर इंश्योरेंस के नए नियम लागू होंगे। नए नियमों के मुताबिक अब नई कार के लिए थर्ड पार्टी इंश्योरेंस 03 साल के लिए होगा और नई मोटरसाइकिल या स्कूटर पर 05 साल के लिए होगा। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने जुलाई 2018 में इरडा को थर्ड पार्टी अनिवार्य करने के लिए एक विशेष आदेश दिया था। इस बदलाव के बाद लॉन्ग टर्म के लिए प्रीमियम पेमेंट करने पर नई गाड़ी की शुरुआती कीमत बढ़ जाएगी लेकिन इससे आप हर साल रीन्यूअल के झंझट से बच जाएंगे।

तंबाकू उत्पादों पर ‘चेतावनी’

सभी तंबाकू उत्पादों और सिगरेट के पैकेट पर 1 सितंबर से नेशनल टोल फ्री नंबर अंकित होगा, ताकि तंबाकू और सिगरेट का इस्तेमाल करने वाले लोगों को इनसे छुटकारा पाने में मदद मिल सके। इसके अलावा, तंबाकू उत्पादों और सिगरेट के पैकेट पर 85 प्रतिशत हिस्से में चित्रात्मक तस्वीरों के साथ ही टेक्स्ट मैसेज भी होगा, जिस पर चेतावनी भी लिखी होगी।

नहीं मिलेगा फ्री इंश्योरेंस

IRCTC की ओर से रेल यात्रा के दौरान फ्री में उपलब्ध कराया जाने वाला इंश्योरेंस 1 सितंबर से नहीं मिलेगा। अब इसके लिए IRCTC एक निश्चित राशि लेगा। ऐसे में टिकट बुकिंग के लिए आपको पहले के मुकाबले थोड़ा ज्यादा पैसा खर्च करना होगा। यह सुविधा IRCTC की तरफ से ई- टिकट पर मिलती थी। अब इंश्योरेंस लेने पर आपको अतिरिक्त भुगतान करना होगा।

आईटीआर फाइलिंग पर पेनाल्टी

यदि आप 1 सितंबर को आईटीआर फाइल करते हैं तो इसके लिए आपको पेनल्टी देनी होगी। यह पेनाल्टी अलग-अलग है। 5 लाख से कम सालाना आय वालों के लिए पेनाल्टी की राशि 1 हजार रुपये है। 5 लाख से ज्यादा की आय वाले यदि 31 दिसंबर तक रिटर्न फाइल करते हैं तो उन्हें 5 हजार की पेनल्टी देनी होगी। 1 जनवरी 2019 से रिटर्न फाइल करने पर 10 हजार रुपये की पेनल्टी लगेगी।

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक

पीएम मोदी 1 सितंबर को इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) की शुरुआत करने जा रहे हैं। देश के हर जिले में इस बैंक की शाखा होगी। बैंक का मकसद ग्रामीण क्षेत्रों में फाइनेंशियल सर्विसेज को बढ़ाना है। शनिवार से IPPB की 650 शाखाएं और 3,250 सुविधा केंद्र काम करना शुरू कर देंगे। इस भुगतान बैंक में भारत सरकार की 100 प्रतिशत हिस्सेदारी है। 1.55 लाख डाक घरों के माध्यम से IPPB ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं मुहैया कराएगा।