नई दिल्ली- 21 जुलाई को आम आदमी के हक में आ सकता है ये बड़ा फैसला, सरकार दे सकती है ये बड़ी राहत

104
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली – न्यूज टुडे नेटवर्क : महंगाई के इस दौर में दो जून की रोटी से लेकर तमाम खर्चों ने आम आदमी का जीना मुहाल किया है। ऐसे में आने वाली 21 जुलाई को होने वाली जीएसटी कॉउंसिल की बैठक में उपभोक्ताओं के लिए राहत वाली खबर आने की उम्मीद जताई जा रही है। सूत्रों के मुताबिक, GST काउंसिल की करीब 24 से 32 उत्पादों की दर कम करने पर फैसला हो सकता है। इससे उपभोक्ताओं के इस्तेमाल की चीजों की कीमतों में कटौती की उम्मीद जताई जा रही है।

इन चीजों पर घट सकती है GST की दर

हैंडक्राफ्ट, हैंडलूम आइटम को 12 फीसदी से कम करके 5 फीसदी स्लैब में लाया जा सकता है। वहीं, इलेक्ट्रॉनिक बुक पर जीएसटी की दर 18 फीसदी से कम करके 5 फीसदी की जा सकती है। इसके अलावा कई अन्य जरूरी आइट्म्स को 12 फीसदी के स्लैब से निकालकर 5 फीसदी के स्लैब में शामिल किया जा सकता है। अगर ऐसा कुछ होता है तो इससे देश के निम्न और मध्यम वर्गीय परिवारों को महंगाई के इस दौर में थोडी बहुत राहत तो जरूर मिलेगी।

जीएसटी रिटर्न फॉर्म से जुड़ी दिक्कत हो सकती है दूर

जीएसटी काउंसिल की बैठक में सबसे अहम विषय है जीएसटी रिटर्न। ऐसे में एक ही फॉर्म रखने पर चर्चा हो सकती है क्योंकि GSTN ने इसे अंतिम रूप दे दिया है। उम्मीद जताई जा रही है कि इस पर आम सहमति बन जाएगी। अगर ऐसा हुआ तो यह कारोबारियों के लिए बहुत बड़ी राहत की बात होगी।

28 फीसदी स्लैब में नहीं होगा बदलाव

जीएसटी काउंसिल की इस बैठक में 28 फीसदी स्लैब वाले ज्यादा उत्पादों पर फिलहाल जीएसटी कटौती की संभावना कम है क्योंकि इससे राजस्व का बड़ा नुकसान होगा। वर्तमान में इस स्लैब में 43 प्रोडक्ट ही रह गए हैं। जानकारों के मुताबिक बैठक में नैचुरल गैस को जीएसटी में लाने पर चर्चा हो सकती है। जीएसटी काउंसिल की बैठक में एविएशन सेक्टर को महंगे फ्यूल से राहत मिलने की उम्मीदें कम हैं। क्योंकि, एटीएफ की दरों में कटौती को इस बार एजेंडे में शामिल नहीं किया गया है।