नेपाली लड़कियों से अय्याशी पड़ी उत्तराखंड़ के इन व्यापारियों को भारी, दांव पर लग गया घरबार

171
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

खटीमा- इन दिनों खटीमा के दो दर्जन से ज्यादा व्यापारियों के दिन का चैन और रातों की नींद उड़ी हुई है। आप अगर सोच रहे हैं कि ये सब जीएसटी के साइडइफेक्ट्स होंगे, तो आप गलत सोच रहे हैं । दरअसल इस तमाम व्यापारियों को खुद की रंगीन मिजाजी ही भारी पड़ गई। यही वजह है कि जब सीमा से सटे नेपाल की खूबसूरत लड़कियाँ इनकी दुकान में खरीददारी करने को आई तो ये उन पर मर मिटे। सुनने में यह सब आपको अजीब लग रहा होगा। लेकिन यह पूरे सौ आना सच है।

Nepali girls

यह है मामला

दरअसल नेपाल सीमा से सटे उधमसिंहनगर जिले के खटीमा क्षेत्र में लंबे समय से नेपाल की लड़कियाँ खरीददारी के बहाने पहुंचती रही हैं। ऐसे में कई व्यापारी दुकान में खरीददारी करने आई इन लड़कियों को सामान के साथ ही अपना दिल भी दे बैठे। और इसके बाद व्यापारियों ने इन युवतियों के साथ फिजीकल रिलेशन भी बनाये। और यहीं पर नेपाल की इन लड़कियों ने एक ऐसी साजिश रच डाली जिससे व्यापारी पूरी तरह अंजान थे। फिजीकल रिलेशन के दौरान इन लड़कियों ने कई आपत्तिजनक तस्वीरें अपने फोन में उतार ली।

और फिर शुरू हुआ व्यापारियों की ब्लैकमेलिंग का खेल। लोकलाज के डर से कई व्यापारी अब तक इन लड़कियों भारी भरकम कीमत भी चुका चुके हैं। बावजूद इसके नेपाल की लड़कियों की ब्लैकमेलिंग जारी है। बता दें कि नेपाल सीमा से सटे खटीमा और आसपास के क्षेत्रों में इन दिनों नेपाल की ऐसी युवतियों का गिरोह सक्रिय है, जो सोशल मीडिया के माध्यम से व्यापारियों के संपर्क में आती हैं या ग्राहक बनकर दुकान पर पहुंचती हैं।

अय्याशी पड़ी भारी

बीते रविवार को व्यापार मंडल नगर महामंत्री अमन अरोड़ा ने अपर पुलिस अधीक्षक देवेंद्र सिंह पिंचा से इस मामले में मदद की गुहार लगाई। उन्होंने युवतियों को चिन्हित कर कार्रवाई की मांग की। एएसपी ने पीड़ित व्यापारियों की सूची देने और नेपाली युवतियों की जानकारी देने को कहा। साथ ही मामले में कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया। सूत्रों के मुताबिक नगर में बीस से अधिक ऐसे कारोबारी हैं, जो इन युवतियों के जाल में फंसे हैं। बताया जा रहा है कि कुछ व्यापारियों ने तो नेपाली युवतियों को प्लाट खरीदकर दिए हैं।