इस युवा ने बागेश्वर की सरयू नदी से सीखा तैराकी का फन , अब रौशन कर रहा है SDRF का नाम

770
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: संजय पाठक- उत्तराखंड में ऐसी प्रतिभाओं कमी नही है जो अपने जुनून और कौशल के दम पर देवभूमि का नाम रौशन कर रहे हैं। ऐसा शायद ही कोई क्षेत्र है जहाँ उत्तराखंड के टेलेंट का डंका ना बजा हो। नैनीताल पुलिस द्वारा ऐसे ही युवा जवानों की प्रतिभा को आगे बढाने और बेहतर टीम भावना विकसित करने के उद्देश्य से आज हल्द्वानी तरणताल में प्रदेश स्तर की तैराकी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

युवा तैराकों से रूबरू होते पुलिस महानिरीक्षक पूरन सिंह रावत और एसएसपी जन्मेजय खंडूरी

बता दें कि हरिद्वार, देहरादून, टिहरी गढ़वाल, चमोली, पौड़ी गढ़वाल, रूद्रप्रयाग, उधमसिंहनगर, नैनीताल, चम्पावत, बागेश्वर, पिथौरागढ़, अल्मोडा, 31वीं वाहिनी पीएसी, 40वीं वाहिनी पीएसी, 46वीं वाहिनी पीएसी, आईआरबी प्रथम, आईआरबी द्वितीय, एसडीआरएफ के कुल 210 आरक्षी तैराक प्रतियोगिता में प्रतिभाग कर रहे हैं, जिनमें 69 महिला आरक्षी भी शामिल हैं।

पुलिस तैराकी प्रतियोगिता में प्रतिभाग करते तैराक

पूरे प्रदेश से आई 18 टीमों ने अपने -अपने दल के साथ फ्लैग मार्च निकालकर तैराकी प्रतियोगिता का जोरदार आगाज किया। तैराकी प्रतियोगिता का उद्घाटन कुमाऊं पुलिस महानिरीक्षक पूरन सिंह रावत और एसएसपी नैनीताल जन्मेजय खंडूरी के हाथों हुआ। यूं तो प्रतियोगिता में शामिल हर युवा तैराक का हुनर लाजवाब रहा लेकिन बागेश्वर निवासी नितेश खेतवाल की तैराकी ने तरणताल में सबको रोमांचित कर दिया।

स्वीमिंग पूल में तैराकी का फन दिखाते नितेश खेतवाल

बचपन में बागेश्वर की सरयू नदी पर तैराकी के फन सीखने वाले युवा नितेश खेतवाल 2011 में उत्तराखंड़ पुलिस में भर्ती हुए। 3 साल फायर डिपार्टमेंट में सेवाएं देने के उपरांत नितेश का चयन एसडीआरएफ में हुआ। नौकरी की तमाम चुनौतियों के बीच नितेश ने तैराकी के फन को कमजोर नही पड़ने दिया। और हर बार तैराकी के जरिये खुद के हुनर को साबित किया।

बागेश्वर की सरयू नदी से शुरू हुआ तैराकी का सफर

आज जब हल्द्वानी में 3 दिवसीय 18 वीं प्रादेशिक अर्न्तजनपदीय पुलिस तैराकी प्रतियोगिता का आयोजन हुआ तो एक बार फिर नितेश ने अव्वल स्थान प्राप्त किया। नितेश ने 1500 मीटर फ्री स्टाइल प्रतियोगिता में सफलता प्राप्त की।

एसडीआरएफ के जवान नितेश खेतवाल

अपनी कामयाबी के उत्साहित नितेश ने बताया कि बचपन में शौक शौक में बागेश्वर की सरयू नदी पर तैराकी सीखी , इसके बाद कब तैराकी उनका मनपसंद खेल बन गया , पता ही नही चला। इसके बाद पुलिस में चयन होने के बाद भी नितेश ने तैराकी नही छोडी। और रानीपुर हरिद्वार स्थित 40 वाहिनी पीएसी तरणताल में कोच राकेश दत्त और जोशी जी से कोचिंग की ट्रेनिंग ली। ऐसे में आज एसडीआरएफ का नाम रौशन करने पर खुशी हो रही है।

राष्ट्रपति पदक के लिए चयनित हैं नितेश खेतवाल

अपनी बेमिसाल तैराकी की बदौलत नितेश के नाम एक और उपलब्धि दर्ज हो चुकी है। तैराकी में अपने जुनून के लिए पूरे पुलिस महकमे में चर्चित नितेश का चयन राष्ट्रपति पदक के लिए भी हुआ है। इस महत्वपूर्ण पुरूस्कार के लिए नितेश उत्तराखंड पुलिस की तरफ से एक मात्र चयनित जवान हैं। दरअसल कुछ माह पहले चोरगलिया में रेस्क्यू अभियान के दौरान नितेश ने बचाव दल में शामिल होकर अहम भूमिका निभाते हुए कई जिन्दगियां बचाई थी।

यही वजह है कि नितेश का चयन राष्ट्रपति पदक पुरूस्कार के लिए किया गया। आगे भी नितेश अपनी तैराकी के दम पर एसडीआरएफ का नाम रौशन करने की इच्छा रखते हैं। न्यूज टुडे नेटवर्क की ओर से एसडीआरएफ के जुनूनी तैराक नितेश खेतवाल को आने वाले भविष्य के हार्दिक शुभकामनाएं….

आज की तैराकी प्रतियोगिता का परिणाम

  • प्रतियोगिता में 1500 मीटर फ्री स्टाइल में प्रथम एफएम नितेश खेतवाल एसडीआरएफ, द्वितीय का. चन्द्रमोहन मनोडी 40वीं वाहिनी पीएसी, तृतीय हे.का. मुनेन्द्र 40वीं वाहिनी पीएसी
  • 200 मीटर फ्री स्टाइल प्रतियोगिता में प्रथम का. नवीन सिंह 40वीं वाहिनी पीएसी, द्वितीय गोताखोर मनोज बहुखण्डी जनपद नैनीताल, तृतीय का. ओम दत्त आईआरबी
  • 100 मीटर बटर फ्लाई स्टाइल प्रतियोगिता में प्रथम का. विनय सिंह जनपद चम्पावत, द्वितीय का. जितेन्द्र सिंह 40वीं वाहिनी पीएसी, तृतीय का. अनिल कुमार 31वीं वाहिनी पीएसी
  • 200 मीटर बैक स्ट्रोक स्टाइल प्रतियोगिता में प्रथम का. विरेन्द्र कोरंगा 31वीं वाहिनी पीएसी, द्वितीय का. जितेन्द्र सिंह 40वीं वाहिनी पीएसी, तृतीय का. अनूप तोमर 40वीं वाहिनी पीएसी
  • 200 मीटर ब्रेस्ट स्टाइल प्रतियोगिता में प्रथम का. जीवन गिरी जनपद बागेश्वर , द्वितीय का. पुष्कर शाह आईआरबी द्वितीय, तृतीय का. देवेन्द्र राणा
  • 50 मीटर बैक स्ट्रोक स्टाइल प्रतियोगिता में प्रथम का. रविन्द्र मेहरा आईआरबी प्रथम, द्वितीय का. विरेन्द्र कोरंगा 31वीं वाहिनी पीएसी , तृतीय का. प्रवेश नगरकोटी एसडीआरएफ
  • 4 बाई 200 मीटर रिले फ्री स्टाइल प्रतियोगिता में प्रथम का. चन्द्र मोहन मनोडी, का. अजय गुसाई, का. जितेन्द्र सिंह,का. नवीन सिंह 40वीं वाहिनी द्वितीय , का. राकेश कुमार, का. गोविन्द राम, हे.का. यशपाल, का. अनिल 31वीं वाहिनी पीएसी तृतीय

यह भी देखें- EXCLUSIVE INTERVIEW- हल्द्वानी की गलियों से मायानगरी मुंबई पहुंची एक्ट्रेस नेहा सोलंकी, सफलता की कहानी खुद एक्ट्रेस नेहा सोलंकी की जुबानी