हल्द्वानी- कोई ‘शराब’ तो कोई ‘शराबी’ से है परेशान, जिला पंचायत की बैठक में कुछ ऐसे मिला समाधान

192
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी – न्यूज टुडे नेटवर्क: जिले के गांवों में किस कदर लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है , इसकी पोल- पट्टी आज जिला पंचायत की बैठक में खुली। जिला पंचायत अध्यक्षा सुमित्रा प्रसाद की अध्यक्षता में सर्किट हाउस काठगोदाम में जिला पंचायत के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी, जिसमें जिला पंचायत सदस्यों ने अपने क्षेत्रों की समस्या का मुखरता के साथ रखा। जनप्रतिनिधियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्र की विद्युत, स्वास्थ्य, सडक, बिजली,पेयजल लाइनों एव सिचाई गूलों के निर्माण आदि की सैकडों समस्यायें सदन मे रखी गयी।

अध्यक्षा सुमित्रा प्रसाद ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा बतायी जा रही जनसमस्याओं का प्राथमिकता से निराकरण करना सुनिश्चित करें तथा समस्याओं के निस्तारण में की गयी कार्यवाही की प्रति जिला कार्यालय को भी उपलब्ध कराने के साथ ही शिकायतकर्ता को भी सूचित करना सुश्निचित करें।

पहले की बैठकों का नहीं निकला कोई नतीजा

बैठक में सर्वप्रथम जनप्रतिनिधियों द्वारा पूर्व बैठक मे उठाई गयी समस्याओं की सम्बन्धित विभागों द्वारा की गयी कार्यवाही से अवगत कराया गया तथा जनप्रतिनिधियो ने पूर्व की कोई भी समस्याओ का समाधान सुचारू रूप ना होने के कारण नाराजगी व्यक्त की गई।

जिला पंचायत सदस्य कृष्णानन्द काण्डपाल ने कहा कि खलीगार जल सोत्र मे विगत चार वर्षो से पाईप लाइन ना लगाने की समस्या से अवगत कराया,साथ ही यह भी बताया कि क्षेत्र मे अधिकारी आते है लेकिन जनप्रतिनिधियों को इसकी कोई सूचना नही होती है। जिस पर मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने सिचाई विभाग को जल्द से जल्द पाईप लाइन लगाने के निर्देश दिये और कहा जो भी अधिकारी पर्वतीय क्षेत्रों मे भ्रमण पर जाते है शिकायतकर्ता व जनप्रतिनिधि को अवश्य अवगत करायें।

इसके अलावा सदस्य कृष्णानन्द काण्डपाल ने कहा कि हेडाखान मिडार रोड मे सडक बनाने हेतु भूमि अधिग्रहण की गई थी लेकिन वास्तविक किसानो को भूमि का मुआवजा नही मिला। जिस पर मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने जांच के आदेश दिये।

इन मांगों का भी हो समाधान 

बैठक में जिपंस बीसी कफल्टिया ने बताया कि बडौन के लोगों की कृषि भूमि का अधिग्रहण किया गया था लेकिन आज तक किसानों का मुआवजा नही मिला। जिला पंचायत सदस्य गणेश मेहरा ने बताया कि वजून-अधौडा मे सैकडों परिवार भूस्खलन की जद मे आ रहे है। प्रशासन उनके समस्याओ के निस्तारण के कुछ नही कर रहा है। लाखन सिह निगल्यिा, शान्ति भटट आदि ने जिला पंचायत मे कूडा निस्तारण के लिए उपकरण खरीद मामलों की एसआईटी जांच की मांग की।

पीसी गोरखा ने बताया कि बेतालघाट क्षेत्र में टूटी नहरों की वजह से किसान धान की रोपाई नही कर पाये, जिस पर सिचाई विभाग द्वारा 20 अक्टूबर तक नहरों की साफ सफाई कर नहरों में पानी चलाने को कहा गया।

बीरराम ने कहा कि ओखलकांडा क्षेत्र में सिचाई विभाग द्वारा नहरों की सफाई व्यवस्था ना होने के कारण किसानों को काफी परेशानियों का सामना करना पड रहा है। उन्होंने बताया सिचाई विभाग का एक कर्मचारी देवकी नन्दन हर हमेशा मदिरा के सेवन में रहता है जिससे वहां अव्यस्था का माहौल है। जिस पर मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने सम्बन्धित कर्मचारी के खिलाफ जांच के आदेश दिये।

अंग्रेजी शराब की दुकान ने किया जीना दूभर

बीसी कफलटिया ने कहा कि ओखलकांडा चिकित्सालय में एक्सरे मशीन है लेकिन शासनादेश के बावजूद एक्सरे टैक्निशियन ना होने की वजह से लोगो को काफी परेशानियो का सामना करना पड रहा है। जिस पर मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि स्टाफ की कमी की वजह से भवाली चिकित्सालय से एक्सरे टैक्निशियन प्रत्येक बुधवार को ओखलकांडा चिकित्सालय मे भेजा जायेगा। उपाध्यक्ष पुष्कर सिह नयाल द्वारा बताया गया कि तल्ला रामगढ क्षेत्र में शराब की अंग्रेजी दुकान है। जिसके 50 मीटर के नजदीक स्कूल, चिकित्सालय व कार्यालय होने की वजह से लोगो व स्कूल के छात्र छात्रायें आये दिन परेशान रहती है उन्होने अग्रेजी शराब की दुकान को अन्यत्र शिफ्ट करने को कहा।

सीडीओ ने कसे अफसरों के पेंच

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने सभी अधिकारियों को जन प्रतिनिधियों की जन भावना के अनुरूप त्वरित गति से समस्याओं का निस्तारण करने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी अधिकारियों को आपसी तालमेल से कार्य करने और सभी कार्य पूरी पारदर्शिता के साथ करने तथा किसी भी कार्य को शुरू करने से पहले क्षेत्रीय जन प्रतिनिधियों को अवश्य अवगत कराने के निर्देश दिये। अपर मुख्य अधिकारी राजेश कुमार द्वारा जिला पंचायत सदस्यों को राज्य वित्त की गाइडलाइन से अवगत कराया गया तथा संचालन किया गया।

ये रहे मौजूद

बैठक में जिला पंचायत डॉ.. हरीश विष्ट, नीलम पाल, मीना रौतेला,सुरजीत सिह,नवीन चन्द्र मेलकानी, धीरज जोशी विनोद कुमार, किरन जोशी सहित मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. भारती राना, जिला पूर्ति अधिकारी तेजबल सिह, अधिशासी अभियन्ता जलसंस्थान संतोष कुमार उपाध्याय,सीएओ डी कुमार,इंडियन गैस रवि मेहता, मनोज कुमार गुप्ता, डीडी सती, आरसी पंत, एसबी सिह, जेपी सिह, केएस मेहता एमबी थापा आदि उपस्थित थे।