रहस्य ! देवभूमि के इस खूबसूरत बंगले में रहता है ‘गोरा साहब’ का भूत…

382
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

देहरादून. अपनी प्रकृति सुंदरता के लिए विश्वभर में प्रसिद्ध देवभूमि में एक ऐसी जगह भी है जहां देवो का नहीं एक भूत का राज चलता है, जी हां भूत एक ब्रिटीश अफसर का है जिसे स्थानिय लोग ‘गोरा साहब’ के नाम से जानते थे, हम आपको बिल्कुल भी डरा नहीं रहे हैं लेकिन लोकोक्तियों पर गौर करें तो ऐसा ही है.

 

हिमालय की चोटियों से घिरा चकराता छावनी क्षेत्र में बना यह बंगला भूतिया बंगले के नाम से जाना जाता है. सन् 1860 में ब्रिटीश आर्मी द्वारा छावनी का निमार्ण कराया गया. यह क्षेत्र राजधानी देहरादून के लगभग 100 किमी. दूरी पर है.

सन् 1888 में यहां देवदार की लड़की से चकराता के डीएफओ के लिए एक बंगला बनाया गया. इस बंगले में ब्रिटिश काल के कई अफसर रहे. आज भी यह बंगला पहले की तरह उतना ही नया और व्यवस्थित दिखता है.

यह भी पढ़ें-उत्तराखंड के इस गांव में भूत करते हैं राज, भूलकर भी मत जाना आप…

लेकिन बाद में इस बंगले में अफसरों ने रहने से इंकार कर ‌दिया. स्‍थानीय लोगों द्वारा कहा जाता है कि बंगले में कोई आत्मा रहती है जो कई लोगों ने देखी है. कहा जाता है कि एक परिश्रमी ब्रिटिश आईएफएस अफसर यहां लंबे समय तक रहा.

माना जाता है कि बंगले में दिखाई देने वाली आत्मा उसी की है. जो बंगले में घूमती दिखाई दी गई है.लेकिन कई लोग इसका खंडन भी करते हैं.

इसके साथ ही इस ‘गोरा साहब‘ की आत्मा के इस बंगले में घूमने की कहानी भी स्‍थानीय लोगों द्वारा कही जाती रही है. कुछ का कहना है ‌कि उन्होंने रात में बंगले में किसी आत्मा को डेस्‍क पर काम करते देखा है.

bungalow

{NewsTodayNetwork.Com का इन तथ्यों से कोई संबंध नहीं है. यह केवल लोकोक्तियों के आधार पर पेश किए गए हैं.}